नई दिल्लीकांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल ने विपक्षी नेताओं की कोलकाता में हालिया रैली की पृष्ठभूमि में सोमवार को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और बीजेपीअध्यक्ष अमित शाह पर निशाना साधते हुए कहा कि ‘संविधान को कमजोर करने और इसके साथ छेड़छाड़ का प्रयास करने वाले’ अब विपक्षी एकजुटता से घबराए हुए हैं।

उन्होंने दावा किया कि जो लोग पहले भाजपा के 50 वर्षों तक सत्ता में बने रहने का दम भरते थे वे अब यह कहते घूम रहे हैं कि अगर वे इस बार हार गए तो 200 साल तक सत्ता में वापस नहीं आएंगे। उन्होंने ट्वीट कर कहा, ‘विपक्षी दलों का साथ आने का एक ही मकसद है कि भारत के संविधान की रक्षा की जाए। जिन लोगों ने संविधान को कमजोर किया है और इसके साथ छेड़छाड़ करने की कोशिश की है, वे विपक्षी एकजुटता से बहुत ज्यादा घबराए हुए हैं।

विपक्षी एकजुटता के कारण उनका हाव-भाव बदल गया है। उनके अंदर डर साफ दिख रहा है। वे पहले कहा करते थे कि भाजपा 50 वर्षों तक सत्ता में रहेगी। वे अब कह रहे हैं कि अगर इस बार हार गए तो अगले 200 वर्षों तक सत्ता में नहीं आ सकेंगे।’

बता दें कि सितंबर में एक इंटरव्यू में केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा था कि बीजेपी 50 साल तक सत्ता में बनी रहेगी। वहीं महाराष्ट्र के लातूर में अमित शाह ने शक्ति केंद्र प्रमुख सम्मेलन को संबोधित करते हुए लोकसभा चुनावों की तुलना पानीपत की तीसरी लड़ाई से की थी।

शाह ने कहा था कि उस लड़ाई के बाद देश 200 साल तक गुलाम रहा था। अगर हम यह चुनाव जीतते हैं तो हमारी विचारधारा अगले 50 साल तक शासन करेगी।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन