जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अबदुल्ला ने अनुच्छेद 35ए को लेकर बीजेपी के खिलाफ तीखा हमला बोला है. उन्होंने कहा कि ये हमारी पहचान है और इसके लिया लड़ना देशद्रोह नहीं है.

उमर ने कहा कि जाति, धर्म और रंग के भेद से परे यह अनुच्छेद जम्मू कश्मीर और लद्दाख के लोगों को विशेषाधिकार देता है. लेकिन भाजपा इसे हिंदू बनाम मुस्लिम मुद्दा बनाने की कोशिश कर रही है. उन्होंने कहा, भाजपा आपना हित साधने के लिए इस मामले को राज्य विरुद्ध और देश के अन्य हिस्सों का मुद्दा बनाना चाहती है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

 पूर्व सीएम ने कहा कि आर्टिक्ल 35ए हमारी पहचान है और हमारी विरासत को सहेजने का अवसर है और हम इसे उेसे ही नहीं जाने देंगे. उन्होंने कहा, कमल और दवात वाली पार्टी आरएसएस और भाजपा के एजेंडे पर ही काम कर रही है.

उमर ने कहा कि अगर पीडीपी भाजपा के साथ इसी तरह से समझौते करती रही तो वो दिन दूर नहीं जब भाजपा को पीडीपी के सहयोग की भी जरूरत नहीं पड़ेगी.

गौरतलब रहें कि अनुच्छेद-35ए के तहत जम्मू-कश्मीर विधानसभा को अपने स्थायी नागरिकों की परिभाषा तय करने का विशेषाधिकार मिला है. लेकिन, पिछले दिनों इसे सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी गई है.

Loading...