rahul-gandhi-outside-parliament_650x400_51437648021

नई दिल्ली | नोट बंदी के बाद से संसद की कार्यवाही हंगामे की भेंट चढ़ रही है. अभी तक केवल एक दिन सदन में चर्चा हुई है. आयकर कानून में संसोधन भी बिना चर्चा के पास किया गया. फिलहाल यह लोकसभा में पास हो चुका है वही राज्यसभा में पास होना अभी बाकी है. उधर आज भी संसद में कोई काम नही हुआ और लोकसभा की कार्यवाही को 14 दिसम्बर तक स्थगित कर दिया गया. संसद की कार्यवाही हंगामे की भेट चढ़ने के कारण राहुल गाँधी लगातार प्रधानमन्त्री मोदी पर हमला कर रहे है.

शुक्रवार को सदन से बाहर निकलते हुए राहुल गाँधी ने एक बार फिर मोदी पर हमला बोला. राहुल गाँधी ने कहा की मैं लोकसभा में बोलना चाहता हूँ लेकिन पिछले एक महीने से मुझे बोलने से रोका जा रहा है. राहुल गाँधी ने आगे कहा की जब मोदी जी पुरे देश में रैली कर बोल रहे है, भाषण दे रहे है, फिर उनको लोकसभा में आकर बोलने से डर क्यों लगता है.

राहुल गाँधी ने मोदी को ललकारते हुए कहा की मोदी जी आप एक बार लोकसभा में आइये , मैं इस तरह से अपनी बात रखूँगा की आप बैठ नही पाओगे. यह आजाद भारत का सबसे बड़ा घोटाला है. मैं गरीबो की आवाज मोदी जी के सामने रखूँगा, उनकी दिल की बात मोदी जी को बताऊंगा. हम चाहते है सदन में चर्चा हो. पहले वो कहते है की वो सदन में आयेंगे फिर सरकार पलट गयी.

राहुल गाँधी ने नोट बंदी पर मोदी जी को बहस की चुनौती देते हुए कहा की अगर आप देश भर में भाषण दे सकते हो तो लोकसभा में क्यों नही. इतनी घबराहट क्यों है मोदी जी? हम चाहते है इस पर दूध का दूध और पानी का पानी हो. यह पहला मौका नही है जब राहुल गाँधी मोदी पर निशाना साध रहे है. नोट बंदी के बाद राहुल लगातार मोदी पर हमला कर रहे है. कल उन्होंने कहा था की एक बार आप लोकसभा में आईये हम आपको भागने नही देंगे. इसके अलावा राहुल ने पेटीएम् पर चुटकी लेते हुए कहा की पेटीएम् , दरअसल पे तो मोदी है.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें