Wednesday, August 4, 2021

 

 

 

पिता को भी नहीं थी पद की लालसा, मुझे भी नहीं किसी पद की भूख: ज्योतिरादित्य सिंधिया

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने दावा किया कि मध्य प्रदेश का मुख्यमंत्री नहीं नियुक्त किए जाने पर उन्हें कोई पछतावा नहीं है। सिंधिया ने कहा कि उन्होंने पार्टी आलाकमान के हर उस फैसले को स्वीकार किया है जो उन्हें कहा गया था।

एनडीटीवी को दिए एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा, “जीवन में यह महत्वपूर्ण है कि आप जो भी प्रचार करते हैं, उसका अभ्यास करें और मैंने कहा था कि मैं इस मामले में कांग्रेस हाई कमान के फैसले के साथ जाऊंगा।” सिंधिया ने कहा कि जब हाई कमान की तरफ से कमलनाथ जी को मध्य प्रदेश का मुख्यमंत्री बनाए जाने का फैसला हुआ तो उन्होंने कोई विरोध नहीं किया।

ज्योतिरादित्य सिंधिया ने यह बताने से इनकार कर दिया कि उन्हें उपमुख्यमंत्री की भूमिका का प्रस्ताव मिला था या नहीं। उन्होंने कहा कि मैं यह नहीं कह सकता हूं। मैं पहले से ही संसद में अपनी पार्टी का मुख्य व्हिप हूं और मुझे कुछ और दिया जाना चाहिए होगा, तो यह नेतृत्व तय करेगा। व्यक्तिगत तौर पर आप इस काम के लिए कमरकस कर तैयार रह सकते हो और पार्टी को मजबूती दे सकते हो।

उप मुख्यमंत्री का पद ऑफर होने की बात पर उन्होने कहा, “मैं यह नहीं कह सकता हूं। मैं पहले से ही संसद में अपनी पार्टी का मुख्य सचेतक हूं और पार्टी नेतृत्व तय करेगा कि मुझे कुछ और जिम्मेदारी दी जानी चाहिए या नहीं।” उन्होंने कहा, “व्यक्तिगत तौर पर आप सिर्फ आस्तीन ही ऊपर चढ़ा सकते हैं और कुछ हद तक गर्मी से राहत महसूस कर सकते हैं और पार्टी की ताकत बढ़ा सकते हैं।”

सिंधिया ने कहा कि सीएम बनाने में उम्र और अनुभव कोई फैक्टर नहीं था। उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि क्षमता महत्वपूर्ण कारक है, उम्र या अनुभव नहीं।” उन्होंने कहा, “मेरे पिता को भी किसी तरह के पद की लालसा नहीं थी, मुझे भी किसी पद की भूख नहीं है।”

congres

सिंधिया ने कहा कि इस समय कांग्रेस के लिए आराम करना सबसे बुरा होगा। उन्होंने कहा, “सबसे बड़ा नुकसान यह है कि जब आप सोचते हैं कि हर चुनाव में ऐसा ही होने वाला है। देखिए बीजेपी के साथ क्या हुआ… उन्होंने सोचा था कि वे इतने शक्तिशाली हैं लेकिन हमने हिंदी पट्टी तीन राज्यों को जीत लिया।”

सिंधिया ने कहा, “2013 में जो नरेंद्र मोदी थे वो 2018 में नहीं हैं। आप कुछ लोगों को कुछ दिन के लिए मूर्ख बना सकते हैं, आप सभी लोगों को कुछ दिन मूर्ख बना सकते हैं लेकिन सभी लोगों को हमेशा मूर्ख नहीं बना सकते।”

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles