उत्तरप्रदेश के बहराइच जनसभा के लिए पहुंचे आल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने सैयद सालार मसूद गाजी की दरगाह पर जियारत की. इस दौरान उन्होंने  चादरपोशी कर देश में अमन चैन की दुआ मांगी.

इसके बाद उन्होंने कैसरगंज तहसील के फखरपुर वजीरगंज में आयोजित जनसभा को सबोधित किया. उन्होंने अपने संबोधन में कहा कि चाचा भतीजे का यह नाटक कुर्सी के लिए है. ये लड़ाई मुजफ्फरनगर के इन्साफ की लड़ाई नहीं, बल्कि लूट की लड़ाई है.

ओवैसी ने आगे कहा कि उत्तर प्रदेश में कुर्सी के लिए चाचा-भतीजा लड़ रहे हैं और उन्हें मुसलमानों की चिंता कैसे है. उन्होंने आगे कहा कि यहां गरीबों का मजाक उड़ाया जा रहा है.इस समय मुस्लिम बस्तियों में अस्पताल और स्कूल नहीं बस पुलिस थाने नजर आते हैं.

बिजनौर हत्याकांड को लेकर ओवैसी ने कहा कि हमे 20 लाख रुपये का मुआवजा नहीं चाहिए, यह हमारी जान की कीमत नहीं है. उन्होंने आगे कहा कि मुजफ्फरनगर में दंगा सपा सरकार रोक नहीं सकी. जो मौतें हुईं, पांच , दस लाख रूपया देकर किनारा कर लिया.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?