Sunday, June 13, 2021

 

 

 

इस्लामिक मुल्क के नेताओं का मोदी झुककर इस्तेकबाल कर रहे हैं फिर उन्हें अपने मुल्क के दाढ़ी वालों से नफरत क्यों?

- Advertisement -
- Advertisement -

उत्तरप्रदेश में पहली बार विधानसभा का चुनाव लड़ने जा रही आल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के अध्यक्ष असद्दुदीन ओवैसी ने अलीगढ़ में एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि मुसलमानों को अपनी इज्जत और सम्मान बचाना है तो तमिल लोगों की तरह अपनी ताकत दिखाना होगा.

उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी हिंदुस्तान के कानून पर आस्था रखती है. यही वजह है कि पार्टी कमज़ोर तबकों की लड़ाई के लिए उत्तर प्रदेश में चुनाव लड़ रही है. उन्होंने मुसलमानों को हाल ही में जल्लीकट्टू को लेकर तमिलों द्वारा किये गए प्रदर्शन का हवाला देते हुए कहा कि तमिलनाडु की जनता ने अपनी संस्कृति को बचाने के लिए पूरे तमिलनाडु को बंद कर दिया. उसी तरह अगर मुसलमानों को अपनी इज्जत और सम्मान को बचाना है तो तमिलनाडु की जनता की तरह ही अपनी शक्ति का प्रदर्शन करें. अब अपनों का साथ दें. मुसलमान ने 65 साल दूसरों पर भरोसा किया, अब अपनों पर भरोसा करें मुसलमान.

अलीगढ़ में पार्टी के प्रत्याशी के समर्थन में सभा करने आये ओवैसी ने इस दौरान प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी को भी निशाने पर लिया. उन्होंने एएमयू के माइनॉरिटी स्टेटस को बहाल कराने के लिए संघर्ष की बात करते हुए कहा कि इस्लामिक मुल्क के नेता का प्रधानमंत्री इस्तेकबाल झुककर कर रहे हैं. इसके बावजूद कि उनके दाढ़ी है तो फिर अपने मुल्क के दाढ़ी वालों से मोदी को नफरत क्यों है. ओवैसी ने कहा कि जो लोग हमें ये बता रहे हैं कि हम निकाह कैसे करें, तलाक़ कैसे दें, उनको मालूम होना चाहिए कि ये हमारी हज़ारों साल पुरानी संस्कृति है. जैसे तमिलनाडु के लोगों ने अपनी संस्कृति की हिफाज़त की है, हम भी करेंगे.

उन्होंने आगे कहा कि अखिलेश और मोदी छोटे मियां, बड़े मियां हैं. दोनों विकास की बात कर रहे हैं, लेकिन दोनों ने विनाश किया है. अखिलेश ने 2012 में कहा था कि कोई दंगा नहीं होगा लेकिन मुजफ्फरनगर में दंगा हुआ. 2012 में वादा किया था कि बेगुनाह जेल में बंद मुस्लिम युवकों को छोड़ा जाएगा, लेकिन नहीं छोड़ा गया. पांच सालों में केवल यादवों का विकास हुआ. उन्होंने कहा कि अखिलेश पहले अपने बाप के हो जाएं, फिर गरीबों के होने की बात करें. ओवैसी ने सपा के नए घोषणापत्र में स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों को घी देने वाले वायदे का मजाक उड़ाते हुए कहा कि कौन सी भैंस के दूध का घी देंगे. नेता जी की एक भैंस तो बाहर भाग चुकी है. सपा कमजोरों को इंसाफ देने की बात करती है लेकिन यूपी के जेलों में सबसे ज्यादा दलित और मुस्लिम बंद हैं. सपा और भाजपा एक सिक्के के दो पहलू हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles