संसद के मानसून सत्र के तीसरे दिन अविश्वास प्रस्ताव को लेकर बहस के दौरान राहुल गांधी ने पीएम मोदी को गले लगा लिया। राहुल के इस कारनामे ने न केवल सत्ता पक्ष को बल्कि खुद प्रधानमंत्री को भी आश्चर्य में डाल दिया।

राहुल की इस झप्पी पर मोदी सरकार में मंत्री और शिरोमणि अकाली दल की नेता हरसिमरत कौर बादल ने कहा, “यह संसद है, ‘मुन्नाभाई’ का ‘पप्पी-झप्पी एरिया’ नहीं है…’

लोकसभा की स्पीकर सुमित्रा महाजन ने फौरन इस पर उन्हें टोका और पूछा कि आप (हरसिमरत) तो मुस्कुरा रही थीं?। बता दें कि राहुल गांधी जब मोदी सरकार अपने भाषण में हमले बोल रहे थे, तब हरसिमरत सीट पर बैठ कर मुस्कुरा रही थीं।

रसिमरत कौर ने कहा कि ‘अंदर सब ड्रामा था। जब मैंने उनका सारा ड्रामा देखा, उसके बाद सदन स्थगन के बाद उनकी मम्मी और उनकी तरफ देखकर मुस्कुरा कर मैंने पूछा कि हमको और पंजाबियों को नशा करने वाले, नशेड़ी बोलते हैं, आज कौन सा करके आए हैं, मैंने ये मुस्कुरा कर पूछा, मगर उन्हें समझ तो आई नहीं। सिर्फ मुस्कुराहट दिखी। मगर मैं एक बार गई और फिर पूछा कि राहुल जी आज कौन सा करके आए हैं? मुझे क्या पता कि यह स्क्रिप्ट लिखी हुई थी, बॉलीवुड से लिखवाई थी, सीधे जाकर प्रधानमंत्री पर टूट पड़े।’

वहीं बीजेपी सांसद किरण खेर ने कहा, “राहुल गांधी को शर्म आनी चाहिए… वह हमारे मंत्रियों को बिना किसी सबूत के निशाना नहीं बना सकते… वह सदन में ड्रामा कर रहे थे, और मोदी जी को गले लगा रहे थे… मुझे लगता है, उनका कदम बॉलीवुड होगा… हमें उन्हें वहां भेजना ही होगा…”

Loading...
विज्ञापन