mus

नई दिल्ली: बीजेपी के वरिष्ठ नेता और नागौर के विधायक हबीबुर्रहमान ने विधानसभा चुनावों में टिकट न मिलने पर पार्टी छोड़ दी है।

दरअसल, बीजेपी प्रत्याशियों की पहली सूची में हबीबुर्रहमान के स्थान पर इस बार नागौर से मोहनराम चौधरी को मौका दिया गया है। इस सीट से टिकट न मिलने पर हबीबुर्रहमान खेमे में खासी नाराजगी है।

पार्टी छोड़े जाने के बाद उन्होने कहा, “मैंने कल बीजेपी से इस्तीफा दे दिया था। अब, मुस्लिम उम्मीदवारों को टिकट न देने के लिए पार्टी की नीति होनी चाहिए … हम इसके बारे में क्या कह सकते हैं? मैंने टिकट पाने के लिए कुछ भी गलत नहीं किया …

bjp

बताया जा रहा है कि हबीबुर्रहमान कांग्रेस में शामिल हो सकते हैं।  ऐसा भी कहा जा रहा है कि वह सोमवार को दिल्ली में कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात करने के लिए दिल्ली गए थे। आपको बता दें, हबीबुर्रहमान नागौर से पांच बार विधायक रह चुके हैं। वह तीन बार कांग्रेस और दो बार बीजेपी से विधायक रहे हैं। पिछले दो चुनावों से वह बीजेपी से विधायक हैं।

इससे पहले सोमवार को जनस्वास्थ्य अभियांत्रिकी एवं भूजल मंत्री सुरेंद्र गोयल ने भी भाजपा की जारी पहली सूची में टिकट नहीं मिलने पर पार्टी से इस्तीफा दे दिया और निर्दलीय चुनाव लड़ने का ऐलान किया था। इसके अलावा अजमेर जिले में किशनगढ़ विधानसभा से विधायक भागीरथ चौधरी को टिकट नहीं मिलने पर कार्यकर्ताओं ने जयपुर में हंगामा खड़ा कर दिया।

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें