कश्मीर हिंसा को लेकर राज्यसभा में कांग्रेस के नेता गुलाम नबी आजाद केंद्र और राज्य सरकार पर जमकर बरस पड़े. उन्होंने कश्मीर में हिंसा को को रोकने के लिए केंद्र और राज्य सरकार की मंशा पर सवाल उठाते हुए पूछा कि कश्मीर में हिंसा को को रोकने के लिए जिन पैलेट गनों से फायरिंग की जा रही है उनका इस्तेमाल हरियाणा में जाट आंदोलन के समय क्यों नहीं किया गया था.

गुलाम नबी आजाद ने आगे कहा कि कांग्रेस राज्य से आतंकवाद खत्म करने की मुहिम में केंद्र के साथ है लेकिन वहां के निवासियों के साथ जिस तरह बर्ताव किया जा रहा है, हम उसका समर्थन नहीं करते हैं. उन्होंने राज्य सरकार को हद से ज्यादा फोर्स का इस्तेमाल करने से बचना की सलाह दी हैं.

उन्होंने पूछा ‘जिस तरह से आतंकियों के साथ व्यवहार किया जाता है क्या उसी तरह से नागरिकों के साथ भी करना चाहिए ?. क्या हमें वही गोली इस्तेमाल करनी चाहिए जो आतंकवादियों के खिलाफ की जाती है ? उन्होंने कहा कि  सरकारों को कश्मीर के निवासियों के साथ वैसा ही व्यवहार करना चाहिए जैसा मां-बाप अपने बच्चों के साथ करते हैं.

उन्होंने सत्ता पक्ष पर आरोप लगाते हुए कहा कि कुछ नेता अपने बयानों से घाटी में माहौल बिगाड़ रहे हैं. जिसके कारण कश्मीर में हालात बिगड़ते जा रहे हैं.

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano