मुस्लिमों के खिलाफ विवादित बयान में गिरिराज सिंह का कोर्ट में सरेंडर, मिली जमानत

2:41 pm Published by:-Hindi News

भाजपा के विवादित नेता और बिहार की बेगूसराय सीट से भाजपा के उम्मीदवार गिरिराज सिंह को न्यायालय से बड़ी राहत मिली है. न्यायालय ने आचार संहिता उल्लंघन मामले में गिरिराज सिंह को जमानत दे दी है.

गिरिराज सिंह पर आरोप था कि 24 अप्रैल को जीडी कॉलेज में राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह की सभा के दौरान उन्होने वंदे मातरम को लेकर अल्पसंख्यक मुस्लिम समुदाय पर विवादित बयान दिया था. इस संबंध में नगर थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी.

इसी मामले में आज सीजेएम कोर्ट में गिरिराज सिंह ने आत्मसमर्पण किया. इसके बाद उन्हें जमानत मिल गई. अधिवक्ता अमरेन्द्र कुमार अमर ने कहा कि समर्पण के बाद जमानत मिल गई है.

चुनाव आयोग ने गिरिराज सिंह पर उस बयान के लिए नोटिस जारी किया था, जिसमें गिरिराज सिंह ने कहा था कि जो व्यक्ति वंदे मातरम नहीं कह सकता है, वह अपनी मातृभूमि की पूजा कैसे कर सकेंगा.

bjp

उन्होंने अपने बयान में कहा था, ‘मेरे पिता और दादा की मृत्यु गंगा किनारे हुई थी और उन्हें कब्र की जरूरत भी नहीं पड़ी थी. लेकिन तुम्हे मरने के बाद भी तीन हाथ जमीन की जरूरत है. इसके बाद भी अगर ऐसा करते हो तो देश तुम्हें कभी माफ नहीं करेगा.’

हालांकि अब गिरिराज सिंह ने कहा कि मैं न्यायालय एवं भारतीय संविधान का सम्मान करता हूं और इसी के तहत जब मुझ पर मामला दर्ज हुआ था तो मैं आज न्यायालय में जमानत की अर्जी दाखिल की थी.

गिरिराज ने कहा कि वंदे मातरम हर भारतीयों को बोलना चाहिए उन्होंने एक उदाहरण देते हुए कहा कि भारत हमारी ही नहीं हर एक भारतीय की माता है और मां-बाप का सम्मान करना पुत्र का कर्तव्य होता है.

खानदानी सलीक़ेदार परिवार में शादी करने के इच्छुक हैं तो पहले फ़ोटो देखें फिर अपनी पसंद के लड़के/लड़की को रिश्ता भेजें (उर्दू मॅट्रिमोनी - फ्री ) क्लिक करें