उत्तरप्रदेश में बीजेपी की सत्ता के गठन के साथ ही राम मंदिर निर्माण का मुद्दा फिर से उछाले जाने लगा हैं. केन्द्रीय मंत्री और बीजेपी नेता गिरिराज सिंह ने एक बार फिर से कहा कि राम मंदिर निर्माण में मुसलमानों को भी पहल करनी चाहिए.

उन्होंने कहा कि ये मसला कानूनी दायरे में है लेकिन ये सोचने वाली बात है कि राम मंदिर अयोध्या में नहीं तो क्या बांग्लादेश और पाकिस्तान में बनेगा? उन्होंने कहा कि अयोध्या में राम मंदिर बनाने की पहल भारत के मुसलमानों को करनी चाहिए ताकि विश्व में भारत से सौहार्द का संदेश जा सके.

इसी के साथ उन्होंने देश के मुसलमानों को अल्पसंख्यक कहने पर भी ऐतराज जताया और कहा, मुसलमानों को अल्पसंख्यक कहना बंद होना चाहिए. उन्होंने कहा कि अल्पसंख्यक से बहुसंख्यक बन चुके मुसलमानों को इस परिधि से बाहर आना चाहिये और विकास के लिये कंधे से कंधा मिला कर चलना चाहिये.

गिरिराज ने कहा कि  तीन तलाक का भी विरोध किया और कहा कि ये मसला देश की आधी आबादी के लिये एक कलंक की तरह है.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?