Monday, January 24, 2022

बाढ़ पीड़ितों पर बोले गिरिराज – मन करता है कर लूं सुसा’इड, JDU का जवाब – रोका किसने है

- Advertisement -

राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) में भारतीय जनता पार्टी (BJP) व जनता दल यूनाइटेड (JDU) के बीच कुछ ठीक नहीं चल रहा है। दरअसल, केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह की आजकल किसी ना किसी बहाने बिहार सरकार को कटघरे में खड़ा करने की कोशिश कर रहे है।

उन्होने बिहार सरकार पर सौतेला व्‍यवहार का आरोप लगाते हुए कहा कि बेगूसराय के लोग सूखा व बाढ़ से परेशान हैं। ऐसे में आवाज नहीं उठाएं तो क्या आत्मह’त्या कर लें?जो हालात हैं उसमें सरकार से मांग नहीं करें तो किससे करें? गिरिराज सिंह ने कहा कि बेगूसराय को सूखाग्रस्‍त क्षेत्र घोषित नहीं किया गया है। बेगूसराय का आधा हिस्सा सूखाग्रस्त है तो दूसरे आधे हिस्से में बाढ़ है। बाढ़ग्रस्‍त क्षेत्र में भी राहत व बचाव कार्य नाकाफी हैं।

इसपर जेडीयू नेताओं ने पलटवार किया है तो राष्‍ट्रीय जनता दल ने भी तंज कसा है। उधर, बीजेपी भी सफाई पर उतर आई है। गिरिराज सिंह के बयान पर श्रवण कुमार ने कहा कि आत्मह’त्या गलत काम हैं और ऐसा बयान नहीं देना चाहिए। लेकिन दुनिया में अगर कोई व्यक्ति आत्महत्या करने पर उतारू हो जाये तो उसे कौन रोक सकता है?

साथ ही जदयू नेता ने कहा कि गिरिराज सिंह सच नहीं जानते क्योंकि जिस राज्य में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने एक नहीं कई बार कहा है कि खजाने पर पहला हक आपदा पीड़ितों का है, वहां ऐसे विवाद को तूल नहीं देना चाहिए।

जदयू नेता श्रवण के अलावा बिहार के शिक्षा मंत्री कृष्णानंदन वर्मा ने कहा कि गिरिराज केवल सुर्खियों में बने रहने के लिए ऐसे अजीब बयान देते हैं। जेडीयू के प्रवक्‍ता राजीव रंजन ने कहा कि गिरिराज सिंह का बयान मंत्री पद की गरिमा के अनुकूल नहीं है। जेडीयू नेता संजय सिंह ने भी गिरिराज सिंह के बयान की निंदा करते हुए कहा कि जनता सब देख रही है।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles