गहलोत सरकार ने स्कॉलरशिप टेस्ट से हटाया दीनदयाल उपाध्याय का नाम

11:53 am Published by:-Hindi News

राजस्थान सरकार ने 10वीं और 12वीं के लिए मिलने वाली स्कॉलरशिप की परीक्षा से संघ के विचारक दीनदयाल उपाध्याय का नाम हटा दिया है।

राज्य के शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह डोटासरा ने बताया, ‘पूर्व भाजपा सरकार ने प्रतिभा खोज परीक्षा में बिना किसी कारण के दीनदयाल उपाध्याय का नाम जोड़ दिया था, इसलिये नाम को हटाया जा रहा है।’ बता दें कि 10वीं और 12वीं के छात्र-छात्राओं के लिए आयोजित इस परीक्षा में सफल होने वालों को छात्रवृत्ति दी जाती है।

इस मामले में राजस्थान के पूर्व शिक्षा मंत्री वासुदेव देवनानी के सरकार बार- बार संघ विचारकों पर हमला करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेताओं के नाम से कई योजनाएं और कार्यक्रम हैं लेकिन प्रतिभा खोज परीक्षा से पंडित दीनदयाल उपाध्याय के नाम को हटाया जाना कांग्रेस सरकार की संकीर्ण मानसिकता को दर्शाता है।

vasundhara raje 1493175600

उन्होंने कहा कि लोकसभा चुनाव में करारी हार से शर्मसार हुई कांग्रेस राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ विचारकों के नाम को हटाना, स्कूली पाठ्यक्रम में बदलाव करने संबंधी इस प्रकार के निर्णय ले रही है।

इससे पहले पूर्व देवनानी ने संघ विचारक विनायक दामोदर सावरकर को कक्षा दसवीं की सामान्य विज्ञान की पुस्तक में ‘पुर्तगाल का पुत्र’’ बताए जाने पर सरकार को घेरा था। इस बदलाव को सरकार ने शिक्षा विशेषज्ञों की अनुशंसा के आधार पर लिया गया फैसला कहा था।

Loading...