कथित गौरक्षा के नाम पर राजस्थान के अलवर मे मारे गए रकबर उर्फ अकबर की हत्या को लेकर सीकर के भाजपा सांसद सुमेधानंद सरस्वती ने कहा कि गोरक्षा के नाम पर धंधा शुरू कर दिया है। जिस पर रोक लगानी चाहिए।

उन्होने कहा कि ‘बहुत सारे लोग ऐसे हैं जिन्होंने गोरक्षा के नाम पर धंधा शुरू कर दिया है। इन लोगों के गो-तस्करों से वसूली के लिए गिरोह बना रखे हैं। ऐसे लोगों की वजह से ही अलवर जैसी घटनाएं सामने आती हैं।’

बीजेपी सांसद ने कहा, ‘गोरक्षा की आड़ में धंधा करने वाले इन लोगों की वजह से वास्तव में गोसेवा में लगे लोग और संत समाज बदनाम हो रहा है। इन फ़र्ज़ी गोरक्षकों के ख़िलाफ़ कठोर से कठोर कार्रवाई करनी चाहिए।’

सुमेधानंद सरस्वती ने कहा, ‘मुझसे अनेक गोशालाओं के संचालक मिले। उन्होंने मुझसे कहा कि हमारे जैसे लोग और साधू-संन्यासी तो निस्वार्थ भाव से गायों की सेवा करते हैं, लेकिन इस काम को धंधा बनाने वाले लोगों की वजह हमारी बदनामी हो रही है।’

cow

उन्होंने आगे कहा, ‘गोसेवा की आड़ में लोगों ने गिरोह बना लिए हैं। ये दिखावे के लिए गोसेवा करते हैं। असलियत में ये गायों की तस्करी करवाते हैं। इन लोगों के ख़िलाफ़ सरकार को सख़्त कार्रवाई करनी चाहिए। प्रधानमंत्री जी भी यह बात कई बार कह चुके हैं।’

बता दे कि 2016 में पीएम मोदी ने कहा था कि ‘गोरक्षा पर जो लोग दुकानें खोलकर बैठे हैं उन पर गुस्सा आता है। कुछ लोग पूरी रात एंटीसोशल एक्टिविटी करते हैं और दिन में गोरक्षा का चोला पहन लेते हैं। 70-80 फीसदी लोग फ़र्ज़ी गोसेवक हैं।’