समाजवादी पार्टी के सांसद बेनी प्रसाद वर्मा ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की हत्या को लेकर संघ परिवार को जिम्मेदार बताया हैं.

उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी की हत्या आरएसएस कार्यकर्ता ने की थी. जिसके बाद पटेल ने आरएसएस के लोगों को जेल में भेजा था. उन्होंने आगे कहा कि इस घटना से जुड़े साक्ष्य मिलने के बाद ही तत्कालीन गृहमंत्री सरदार पटेल ने संघ पर प्रतिबंध लगाया था और इसके नेताओं को जेल भेजा था.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

बारादरी गांव में शुक्रवार को ट्राइसायकिल वितरण कार्यक्रम में उहोने कहा ’जब महात्मा गांधी की हत्या की गयी, उसके (संघ के) कार्यकर्ताओं को पहले ही बता दिया गया था कि रेडियो खोलकर रखना, अच्छी खबर मिलेगी. महात्मा गांधी की हत्या के बाद संघ मुख्यालय पर मिठाई बांटी गयी थी और सरदार पटेल (तत्कालीन गृह मंत्री) को उस पर प्रतिबंध लगाना पड़ा था.

वर्मा ने जेल में बंद रहे संघ नेता गोलवलकर और पटेल के बीच हुए कथित पत्र व्यवहार के हवाले से यह भी कहा कि पटेल ने संघ मुख्यालय पर मिठाई बांटे जाने को उनके खिलाफ सबसे मजबूत साक्ष्य बताया था.

Loading...