Sunday, January 23, 2022

गुरु नानक देव की जयंती पर पाकिस्तान जाएंगे पूर्व पीएम मनमोहन सिंह

- Advertisement -

नई दिल्ली. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह 9 नवंबर को आयोजित गुरुनानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व में शामिल होंगे। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने गुरुवार को उनके आवास जाकर उनसे मुलाकात की और कार्यक्रम में शामिल होने को लेकर निमंत्रण दिया।

अमरिंदर सिंह ने ट्वीट किया, “पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह से उनके आवास पर मिलकर बहुत खुश हूं। उन्हें 9 नवंबर को करतारपुर साहिब गुरुद्वारा जाने वाले पहले जत्थे के लिए आयोजित कार्यक्रम में शामिल होने के लिए आमंत्रित किया और उन्होंने हमारा न्यौता स्वीकार कर लिया। वे श्री गुरुनानक देव जी के 550वें प्रकाश पर्व के अवसर पर सुल्तानपुर लोधी में आयोजित मुख्य कार्यक्रम में भी शिरकत करेंगे। इसके साथ ही, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने भी प्रकाश पर्व में शामिल होने का निमंत्रण स्वीकार किया।”

गौरतलब है कि पाकिस्तान की सरकार ने पिछले दिनों कहा था कि वह नौ नवंबर को होने वाले करतारपुर गलियारे के उद्घाटन समारोह में मनमोहन सिंह को आमंत्रित करेगी। पाकिस्तान सिख धर्म के संस्थापक गुरू नानक देव की 12 नवंबर को होने वाली 550वीं जयंती से कुछ दिनों पहले नौ नवंबर को करतारपुर गलियारा खोल रहा है।

पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने सोमवार को कहा था कि हम भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को करतारपुर कॉरिडोर के उद्धाटन में बुलाना चाहते हैं। वह सिख समुदाय का प्रतिनिधित्व करते हैं। हम उन्हें औपचारिक निमंत्रण भेजेंगे।

क्यों और क्या है करतारपुर में खास?

यह गलियारा भारतीय क्षेत्र से करतारपुर साहिब गुरुद्वारे को जोड़ेगा जो पाकिस्तान के नरवाल जिले में भारतीय पंजाब के गुरदासपुर स्थित सीमा से कुछ ही दूर स्थित है। इसी गुरुद्वारे में बाबा गुरु नानक ने अपने जीवन के अंतिम क्षण बिताए थे, इस वजह से इसे बेहद पवित्र माना जाता है।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles