कोरोना संक्रमण के चलते लॉकडाउन में फंसे मजदूरों की वापसी के लिए कांग्रेस की और से 1000 बसों को चलाने की घोषणा केवल एक राजनीतिक विवाद बन गई है। दरअसल, बसें यूपी में प्रवेश नहीं कर पाईं। ऐसे में अब कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने मंगलवार को उत्तर प्रदेश सरकार पर “सारी हदें पार करने” का आरोप लगाया।

गांधी ने ट्वीट में लिखा, “उप्र सरकार ने हद कर दी है। जब राजनीतिक परहेजों को परे करते हुए त्रस्त और असहाय प्रवासी भाई बहनों को मदद करने का मौका मिला तो दुनिया भर की बाधाएं सामने रख दिए।” वहीं, उत्तर प्रदेश सरकार ने कांग्रेस नेताओं पर धोखाधड़ी का आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस की ओर से बसों की जो लिस्ट भेजी गई है, उनमें कई सारे वाहन दोपहिया, ऑटो और मालवाहक वाहन हैं।

सरकार ने कहा कि बसों की सूची में गलत जानकारी देने के लिए वाड्रा के सचिव और उत्तर प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। बता दें कि 16 मई को प्रियंका ने सीएम योगी आदित्यनाथ को पत्र लिखकर मजदूरों की वापसी के लिए 1,000 बस देने की पेशकश की थी।

18 मई को अपर मुख्य सचिव गृह अवनीश अवस्थी ने प्रियंका के निजी सचिव को पत्र लिखकर बसों के फिटनेस सर्टिफिकेट, चालक के ड्राइविंग लाइसेंस सहित परिचालक का ब्योरा मांगा। साथ ही सभी बसों को मंगलवार सुबह 10 बजे लखनऊ पहुंचाने को कहा।

इसी बीच प्रियंका गांधी ने मंगलवार को अपने ट्वीट में लिखा-” मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी इन बसों पर आप चाहें तो भाजपा का बैनर लगा दीजिए, अपने पोस्टर बेशक लगा दीजिए लेकिन हमारे सेवा भाव को मत ठुकराइए क्योंकि इस राजनीतिक खिलवाड़ में तीन दिन व्यर्थ हो चुके हैं। और इन्ही तीन दिनों में हमारे देशवासी सड़कों पर चलते हुए दम तोड़ रहे हैं।”

कांग्रेस महासचिव ने कहा- “उप्र सरकार का खुद का बयान है कि हमारी 1049 बसों में से 879 बसें जाँच में सही पायीं गईं. ऊँचा नागला बॉर्डर पर आपके प्रशासन ने हमारी 500 बसों से ज्यादा बसों को घंटों से रोक रखा है। इधर दिल्ली बॉर्डर पर भी 300 से ज्यादा बसें पहुंच रही हैं। कृपया इन 879 बसों को तो चलने दीजिए। हम आपको कल 200 बसें की नयी सूची दिलाकर बसें उपलब्ध करा देंगे। बेशक आप इस सूची की भी जाँच कीजिएगा। लोग बहुत कष्ट में हैं। दुखी हैं। हम और देर नहीं कर सकते।”

Loading...
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano
विज्ञापन