रिटायर्ड नेवी अफसर कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान की एक सैन्य अदालत द्वारा मौत की सज़ा सुनाये जाने पर आल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन के अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी ने कहा, सरकार कुलभूषण जाधव को भारत वापस लाने के लिए पूरी ताकत लगाएं

उन्होंने कहा, “भारत को जाधव को बचाने के लिए सब कुछ करना चाहिए. पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने जाधव को बिना किसी सबूत के सजा सुना दी. भारत को उन्हें बचाने के लिए हर अंतर्राष्ट्रीय मंच का इस्तेमाल करना चाहिए, सारी ताकत लगानी चाहिए.”

वहीँ कांग्रेस सांसद मल्लिकार्जुन खड़गे ने सरकार को इस मुद्दे पर घेरते हुए कहा कि पाकिस्तान के पास मौत की सजा देने का कोई सबूत नहीं होने के बावजूद आखिर मोदी सरकार इस मुद्दे पर चुप क्यों है. उन्होंने कहा कि अगर कुलभूषण नहीं बचा तो यह पूरी तरह से सरकार की कमजोरी होगी. खड़गे ने कहा कि अगर कुलभूषण को मौत की सजा दी जाती है तो यह हत्या होगी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

गौरतलब रहें कि रविवार को पाकिस्तान आर्मी एक्ट के तहत चल रहे मुक़दमें में उन्हें मौत की सजा सुनाई गई है. पाकिस्तान ने उन पर आरोप लगाए कि जाधव पाकिस्तान को अस्थिर करना और पाकिस्तान के ख़िलाफ़ जंग छेड़ना चाहते थे. उन्होंने बलूचिस्तान और कराची में शांति बहाल करने की कोशिशों में बाधा पहुंचाने का काम किया.

Loading...