बुलंदशहरः आजाद समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष चंद्रशेखर आजाद ने रविवार को दावा किया कि यहां उनके काफिले पर गोली चलाई गई। हालांकि वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह ने कहा कि घटना की अभी पुष्टि नहीं हुई है और केवल एक समाचार चैनल कथित हमले से संबंधित खबर दिखा रहा है।

भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद ने रविवार को ट्वीट कर कहा, “बुलंदशहर के चुनाव में हमारे प्रत्याशी उतारने से विपक्षी पार्टीयां घबरा गई है और आज की रैली ने इनकी नींद उड़ा दी है जिसकी वजह से अभी कायरतापूर्ण तरीके से मेरे काफिले पर गोलियां चलाई गई है। यह इनकी हार की हताशा को दिखाता है ये चाहते है कि माहौल खराब हो लेकिन हम ऐसा नही होने देंगे।”

वहीं बुलंदशहर एसएसपी एसके सिंह ने कहा कि मीडिया में आजाद समाज पार्टी के चंद्रशेखर आजाद पर गोली चलाने के बारे में खबरें हैं, घटना की पुष्टि नहीं हुई है। बीते दिन आजाद समाज पार्टी और ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहाद-उल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के कार्यकर्ताओं के बीच झड़प हुई है। अगर इस घटना को लेकर शिकायत दर्ज की जाती है तो हम मामला दर्ज करेंगे।

जानकारी के अनुसार एआईएमआईएम पार्टी के उम्मीद दिलशाद अहमद मनिहारो वाली गली में चुनावी सभा कर रहे थे। इसी बीच चंद्रशेखर और उनकी पार्टी के उम्मीदवार हाजी यामीन अपने समर्थक लेकर वहां पहुंच गए और दोनों पक्षों में कहासुनी शुरू हो गई। देखते ही देखते दोनों तरफ से मारपीट होने लगी। इस मारपीट में कई लोगों को चोटें भी आई हैं। एआईएमआईएम के प्रत्याशी दिलशाद अहमद बुरी तरह से पीटे जाने की भी खबर सामने आई है।

बता दें कि, आजाद ने बुलंदशहर उपचुनाव में हाजी यामीन को अपनी पार्टी का उम्मीदवार बनाया है। वहीं उनकी पार्टी बिहार विधानसभा चुनाव में 30 सीटों पर मैदान में उतरी है. आजाद बिहार में पप्पू यादव की जन अध‍िकारी पार्टी के नेतृत्व वाले प्रोग्रेसिव डेमोक्रेटिक एलायंस (PDA) के साथ चुनावी रण में उतरे हैं।

Loading...
विज्ञापन
अपने 2-3 वर्ष के शिशु के लिए अल्फाबेट, नंबर एंड्राइड गेम इनस्टॉल करें Kids Piano