Monday, July 26, 2021

 

 

 

मजदूरों के शोषण और अधिकारों को कुचलने से नहीं लड़ी जा सकती कोरोनो की लड़ाई: राहुल गांधी

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने सोमवार को कहा कि कई राज्य श्रम कानूनों में संशोधन कर रहे हैं, लेकिन कोरोनोवायरस महामारी के खिलाफ लड़ाई श्रमिकों का शोषण करने, उनकी आवाज दबाने और उनके मानवाधिकारों को कुचलने का बहाना नहीं हो सकती।

राहुल गांधी ने कहा कि असुरक्षित कार्यस्थलों को अनुमति देकर बुनियादी सिद्धांतों पर कोई समझौता नहीं किया जा सकता है। राहुल गांधी ने कहा, “कई राज्य श्रम कानूनों में संशोधन कर रहे हैं। हम एक साथ कोरोना के खिलाफ लड़ रहे हैं, लेकिन यह मानवाधिकारों को कुचलने, असुरक्षित कार्यस्थलों की अनुमति देने, श्रमिकों का शोषण करने और उनकी आवाज को दबाने का बहाना नहीं हो सकता है।”

कांग्रेस नेता जयराम रमेश ने भी कहा कि आर्थिक पुनरुत्थान और प्रोत्साहन के नाम पर श्रम, भूमि और पर्यावरण कानूनों को ढीला करना खतरनाक और विनाशकारी होगा।

जयराम रमेश ने ट्वीट किया, “आर्थिक पुनरुद्धार और प्रोत्साहन के नाम पर, यह खतरनाक और विनाशकारी होगा जो कि मोदी सरकार की योजना के अनुसार श्रम, भूमि और पर्यावरण कानूनों और विनियमों को ढीला करना है। पहले ही कदम उठाए जा चुके हैं। यह विमुद्रीकरण की तरह एक विचित्र उपाय है।“

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles