नई दिल्ली । बुधवार को भाजपा सांसद विनय कटियार के एक बयान ने राजनीतिक भूचाल ला दिया। विनय कटियार ने देश के मुस्लिमों को पाकिस्तान या बांग्लादेश जाने की सलाह दे डाली। कटियार के इस बयान की विपक्षी दलो ने कड़ी निंदा की है। नैशनल कॉन्फ़्रेन्स के अध्यक्ष फ़ारूख अब्दुल्ला ने बेहद तल्ख़ शब्दों में कहा की यह देश विनय कटियार के बाप का नही है, हम सबका है।

गुरुवार को विनय कटियार के बयान पर जब फ़ारूख अब्दुल्ला से प्रतिक्रिया माँगी गयी तो उन्होंने एएनआइ से बात करते हुए कहा,’ जहां तक कटियार साहब का सवाल है… क्या ये कटियार के बाप का देश है। यह मेरा भी देश है सबका देश है। जो लोग नफरत की बात करते हैं, वही ऐसी बात करते हैं।’ बताते चले की विनय कटियार ने AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी की मुस्लिमो को ‘पाकिस्तानी’ कहने वालों के ख़िलाफ़ क़ानून बनाने की माँग पर यह बयान दिया था।

मंगलवार को लोकसभा में बोलते हुए ओवैसी ने मोदी सरकार से माँग की थी जो लोग मुस्लिम को पाकिस्तानी कहते है उन्हें तीन साल की सज़ा होनी चाहिए। सरकार को चाहिए को वह इस पर क़ानून बनाए जैसे एससी/एसटी क़ानून बनाया गया है। यह ग़ैर ज़मानती अपराध की श्रेणी में आना चाहिए। जहाँ ओवैसी की इस माँग का मुस्लिम संगठनो ने समर्थन किया है वही भाजपा के कुछ नेताओ ने इसकी आलोचना की है।

विनय कटियार ने ओवैसी के इस बयान पर कहा था कि जो लोग वंदे मातरम का सम्मान नहीं करते हैं, राष्ट्रीय झंडे का अपमान करते हैं और पाकिस्तानी झंडा फहराते हैं, उन्हें दंडित करने के लिए संसद में एक बिल लाया जाना चाहिए। उन्हें दंडित करना चाहिए। इसके अलावा देश के मुस्लिमों को पाकिस्तान या बांग्लादेश चला जाना चाहिए। उनके इस बयान पर बुधवार से ही हंगामा मचा हुआ है। लेकिन किसी भी भाजपा नेता ने उनके बयान की आलोचना नही की है।

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?