हमेशा अपने बयानों और कारनामों के जारिए विवादों में रहने वाले भारतीय जनता पार्टी के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने अब किसानों की खुदखुशी को लेकर शर्मनाक बयान दिया है. उन्होंने कहा कि किसान कर्ज की वजह से नहीं बल्कि निजी कारणों से खुदखुशी की है.

कैलाश विजयवर्गीय का कहना है कि जिन किसानों ने आत्महत्या की है उन किसानों में से किसी पर कोई कर्ज नहीं था. प्राइवेट काम के लिए कर्ज लिया है.

उन्होंने कहा, मेरी जानकारी कह रही है कि जो मृत्यु हुई है वह निजी कारण है ना कि किसान कर्ज. इनकी आत्महत्या के लिए निजी कारण हो सकते हैं, परिवारिक कारण हो सकता है, डिप्रेशन में जाने के कारण हो सकते हैं.

कैलाश विजयवर्गीय का कहना है कि जो-जो योजनाएं शिवराज सिंह चौहान ने घोषित किए हैं, वादे किए हैं, उन पर अमल होना चालू हो गया है. प्याज की खरीदी केंद्र का उद्घाटन किया. सारे प्रदेश में जो घोषणा की थी उस पर काम चालू हो गया है.

कोहराम न्यूज़ को सुचारू रूप से चलाने के लिए मदद की ज़रूरत है, डोनेशन देकर मदद करें








Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें