navjot singh sidhu 620x400

कांग्रेस नेता और पंजाब सरकार में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू के प्रचार करने पर चुनाव आयोग ने 72 घंटे का बैन लगाया है। सिद्धू अगले 72 घंटे प्रचार नहीं कर पाएंगे। यह बैन 23 अप्रैल सुबह 10 बजे से प्रभावी माना जाएगा।

बता दें कि 16 अप्रैल को बिहार के कटिहार की बारसोई और बराड़ी विधानसभा में कांग्रेस प्रत्‍याशी के समर्थन में एक सभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस नेता सिद्धू ने मुस्लिम समुदाय से एकजुट होकर कांग्रेस के पक्ष में मतदान करने की अपील की थी। उन्‍होंने कहा था, ‘मैं अपने मुस्लिम भाइयों को एक ही बात कहने आया हूं कि आप यहां अल्पसंख्यक बनकर भी बहुसंख्यक हो और 62 फीसदी हो। ये आपको बांट रहे हैं। ये बीजेपी वाले आपके वोट को बांटने का प्रयास करेंगे, मैं कहता हूं अगर आप इकट्ठे आ गए तो तारिक साहब को दुनिया की कोई ताकत नहीं हरा सकती। अगर आप एकजुट हो गए तो फिर मोदी सुलट जाएगा….छक्का लग जाएगा….मैं जब जवान था तो मैं भी खूब छक्का मारता था…ऐसा छक्का मारो कि मोदी को यहां बाउंड्री से पार होना पड़े।’

सिद्धू के इस बयान पर चुनाव आयोग ने कार्रवाई की है। बीजेपी ने सिद्धू के खिलाफ चुनाव आयोग में शिकायत की थी। मंगलवार सुबह 10 बजे से चुनाव आयोग की रोक लागू हो जाएगी। इस दौरान सिद्धू न ही किसी रैली को संबोधित कर पाएंगे, न ही सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर पाएंगे और न ही किसी को इंटरव्यू दे पाएंगे।

सिद्धू से पहले योगी आदित्यनाथ, आजम खान, मेनका गांधी, मायावाती जैसे नेताओं पर भी 48-72 घंटों तक का बैन लग चुका है। सुप्रीम कोर्ट से फटकार मिलने के बाद चुनाव आयोग ने नेताओं की टिप्पणियों पर जरा भी नरमी नहीं दिखाई।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें