हाल ही में लखनऊ एनकाउंटर के बाद कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह के दिए हुए बयान पर बीजेपी ने कांग्रेस से माफ़ी की मांग की हैं. केंद्रीय मंत्री एम वेंकैया नायडू ने कहा कि उनका मुस्लिमों और आईएस के सबंध में दिया गया हुआ बयान मुस्लिमों का अपमान करने वाला हैं.

दरअसल, कांग्रेस महासचिव ने कहा था कि देश में मुस्लिमों के साथ हो रहे जुल्म और अत्याचार की वजह से खूखार आतंकी संगठन आईएसआईएस मुस्लिमों को प्रभावित कर रहा हैं. इसके लिए उन्होंने बीजेपी को जिम्मेदार ठहराया था. इस पर नायडू ने कहा कि ‘मुसलमानों से हुआ अन्याय आईएसआईएस को आकर्षक बनाने संबंधी’ कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह का बयान कुछ और नहीं, बल्कि भारत में आईएस गतिविधियों को उचित ठहराने की कोशिश है.

उन्होंने आरोप लगाया कि दिग्विजय देश में आईएसआईएस की हरकतों को खुलकर उचित ठहरा रहे हैं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेता अल्पसंख्यकों के बीच डर की भावना बनाए रखने और उसे बढ़ावा देने की कोशिश कर रहे हैं. उन्होंने दिग्विजय से यह भी सवाल कि क्या कांग्रेस नीत यूपीए शासन के दौरान हुए आतंकी हमले भी हमारे देश में मुसलमानों से हुए अन्याय से प्रेरित थे.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने भी दिग्विजय सिंह पर प्रहार करते हुए कहा कि वह अलगाववादियों की भाषा बोल रहे हैं. उन्होंने कहा कि कांग्रेस के कुछ नेता जो कह रहे हैं वह क्या कांग्रेस की नीति है? यदि हां, तो लोगों को यह फैसला करना होगा कि खुद को राष्ट्रीय पार्टी कहने वाली यह पार्टी भविष्य में वोट देकर क्या सत्ता में लाए जाने के काबिल है.

Loading...