डेरा सच्चा सौदा प्रमुख गुरमीत राम रहीम सिंह को अपने आश्रम में 15 साल पहले दो साध्वियों के साथ बलात्कार के मामले में दोषी ठहराए जाने के बाद डेरा समर्थकों ने जमकर उत्पात मचाया. जिसके चलते राज्य की हजारों करोड़ों की सम्पति स्वाहा हो गई.

इस हिंसा में अब तक 31 लोगों की मौत हो गई है. घटना में पुलिसकर्मियों को भी गंभीर चोटें आई हैं. इसके अलावा 200 लोग घायल भी हुए हैं. भड़के समर्थकों ने पंजाब और हरियाणा के कई इलाकों में आगजनी और तोड़फोड़ की. हालांकि हिंसा से नाराज पंजाब और हरियाणा कोर्ट ने सख्त रुख अपनाते हुए डेरा की संपत्ति जब्त करने का आदेश दिया है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इसी के साथ खट्टर सरकार को हाईकोर्ट ने भी कड़ी फटकार लगाई है. कोर्ट ने कहा कि सरकार ने राजनीतिक फायदे के लिए शहर को जलने दिया. हाईकोर्ट की फटकार के बाद विपक्ष ने भी खट्टर सरकार को निशाने पर लिया है. कांग्रेस महसचिव दिग्विजय सिंह ने गाय के जरिये खट्टर सरकार पर तंज कसा.

उन्होंने ट्वीट किया, हरियाणा में सब कुछ नियंत्रण में है, किसी भी गाय को चोट नहीं लगी है.’ उनके इस ट्वीट कई लोगों का समर्थन मिला है.

Loading...