dig

कांग्रेस महासचिव और मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने भोपाल सेंट्रल जेल से सिमी कार्यकर्ताओं की फरारी और उसके बाद एमपी पुलिस द्वारा कथित एनकाउंटर में हत्या की न्यायिक जांच की मांग करते हुए कहा कि उन्हें एनआईए पर भरोसा नहीं है.

उन्होंने आगे कहा, एनआईए डायरेक्टर को सरकार ने सेवावृद्धि दी है, तो वह निष्पक्ष जांच नहीं कर सकता है. उन्होंने कहा, मारे गए आरोपियों से पुलिस गिरफ्तार कर कई अहम जानकारियां उगलवा सकती थी, लेकिन हथियार नहीं होने के बाद भी उनको मार दिया गया.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इसके अलावा उन्होंने सिमी कार्यकर्ताओं के जेल तोड़कर भागने को लेकर सवाल उठाते हुए कहा कि  ‘हर बार मुस्लिम कैदी ही जेल से भागता है, हिंदू कैदी क्यों नहीं भागता.’ उन्होंने कहा, मुसलमान कैदी ही जेल से क्यों भागते हैं, क्या समस्या है, इसकी की भी जांच की जानी चाहिए.

उन्होंने आगे कहा कि ‘इस एनकाउंटर का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है. मैं मांग करता हूं कि कोर्ट इस केस की जांच में नजर बनाए रखे. इसके अलावा इस मामले की एनआईए द्वारा जांच की करने के साथ कोर्ट को निगरानी करनी चाहिए.

Loading...