digvijay-singh

गुरुवार को को ट्रिपल तलाक पर इलाहबाद हाईकोर्ट द्वारा की गई टिप्पणी पर प्रतिक्रिया देते हुए कांग्रेस महासचिव दिग्विजय सिंह ने कहा कि अदालत को धार्मिक मामलों और रीतीरिवाजों में दखलंदाजी नहीं करनी चाहिए.

उन्होंने ट्वीट कर कहा कि ”मैं बड़ी विनम्रतापूर्वक से मा. अदालतों से अनुरोध करना चाहूँगा कि उन्हें धर्म और धर्मों के रीति रिवाज में दख़लंदाज़ी नहीं करना चाहिये।”

गौरतलब है कि गुरुवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट ने तीन तलाक को असंवैधानिक बताते हुए कहा हैं कि  “तीन तलाक असंवैधानिक है, यह मुस्लिम महिलाओं के अधिकारों का उल्लंघन है. संविधान से ऊपर कोई पर्सनल लॉ बोर्ड नहीं है.”


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें