Sunday, September 19, 2021

 

 

 

गोकशी पर रासूका, दिग्विजय सिंह ने उठाए कमलनाथ सरकार पर सवाल

- Advertisement -
- Advertisement -

मध्यप्रदेश में कथित गोव’ध के मामले में तीन मुस्लिम युवकों पर राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (रासुका) लगाने को लेकर कांग्रेस तीखी आलोचना का सामना कर रही है। इस मामले में अब पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने भी सवाल उठाए हैं। उन्होंने कहा है कि गोकशी पर एनएसए नहीं लगनी चाहिए।

दिग्विजय सिंह ने संवाददाताओं से कहा, ‘आरोपियों पर गौ हत्या के लिए बने कानून के तहत कार्रवाई की जाना चाहिए थी, रासुका नहीं लगनी चाहिए थी।” राम मंदिर निर्माण को लेकर पूछे गए सवाल पर दिग्विजय सिंह ने कहा कि कांग्रेस ने राम मंदिर का तो कभी विरोध किया नहीं। कांग्रेस सभी धर्मो का सम्मान करती है। कांग्रेस धर्म के नाम पर न तो वोट मांगती है और न ही चंदा वसूलती है।

बता दें कि खंडवा में पिछले दिनों नदीम, उसके भाई शकील व आजम पर रासुका की कार्रवाई की गई। फिलहाल तीनों जेल में हैं। पुलिस के अनुसार, नदीम आदतन अपराधी है और कई वारदातों को अंजाम दे चुका है। उस पर पूर्व में भी गौकशी का आरोप लग चुका है। पुलिस को सांप्रदायिक माहौल बिगड़ने की आशंका थी, इसी के चलते पुलिस ने यह कार्रवाई की थी।

kamal1

बता दें कि इससे पहले कांग्रेस अल्पसंख्यक मोर्चा के कार्यक्रम में नसीम खान ने कहा था कि पहले मध्य प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी की सरकार के समय राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (एनएसए) लगता था, यह बात समझ में आती थी, लेकिन अब तो वहां कांग्रेस की सरकार है।

उन्होने कहा, कमलनाथ सूबे के सीएम हैं, फिर वहां क्यों गौ हत्या के आरोप में तीन मुसलमानों के खिलाफ एनएसए के तहत कार्रवाई की गई। हाल में हुए विधानसभा चुनाव में मध्य प्रदेश में कांग्रेस को जीत मिली थी। वर्तमान में कमलनाथ सूबे के सीएम हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles