बसपा प्रमुख मायावती ने दयाशंकर की गिरफ्तारी को लेकर मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को बुआ-भतीजे का रिश्ता याद दिलाते हुए कहा कि अखिलेश यादव ने बुआ कहकर मुझे कई बार सम्मानित किया. वे मुलायम और मेरे रिश्ते को भाई-बहन का बताते हैं. अगर वे इस रिश्‍ते का सम्‍मान करते हैं तो दयाशंकर को जल्‍द गिरफ्तार करें.

उन्होंने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा, बीजेपी ने दयाशंकर सिंह से षडयंत्र के तहत बयान दिलवाकर बीएसपी को बदनाम करने की साजिश रची गई. यदि बसपा की सरकार बनी तो दयाशंकर के खिलाफ सख्‍त कार्रवाई की जाएगी.

मायावती ने कहा कि बीजेपी के लोग दयाशंकर सिंह को बचाने के लिए उनकी मां और पत्नी को साथ मिलकर बीएसपी को बदनाम करने की सोची साजिश रच रही है. सपा सरकार बीजेपी से मिली हुई है. यही वजह है कि 36 घंटे बीते जाने के बाद दयाशंकर की गिरफ्तारी नहीं हो पाई है. सपा सरकार में जहां मुझे न्याय नहीं मिला तो आम जनता को क्या न्याय मिलेगा?

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन