Wednesday, June 16, 2021

 

 

 

अल्पसंख्यकों और कमजोर वर्गों के विकास को नकवी ने बताया मोदी सरकार का राजधर्म

- Advertisement -
- Advertisement -

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने देश के अल्पसंख्यकों और कमजोर वर्गो के विकास को मोदी सरकार का राजधर्म करार दिया हैं. उन्होने कहा कि सरकार इसके लिए प्रतिबद्ध भी हैं. केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि मोदी सरकार वोट के सौदे पर नहीं बल्कि विकास के मसौदे पर काम कर रही है और यह न केवल राजधर्म बल्कि राष्ट्रीय कर्तव्य भी हैं.

उन्होंने कहा कि केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने बिचौलियों को हटाकर गरीबों तक सीधा लाभ पहुंचाने का अभियान शुरू किया जिसके चलते अब तक अरबों रूपए की होने वाली लूट रुकी है और कल्याणकारी योजनाओं का लाभ मुसलमानों सहित सभी गरीबों, जरूरतमंदों को हुआ है. लूट लॉबी पर लगाम लगी है.

नकवी ने भाषा से बातचीत में कहा कि ल्पसंख्यकों के लिए केंद्रीय बजट प्रावधान इस बात का उदाहरण है कि मोदी सरकार वोट के सौदे पर नहीं बल्कि विकास के मसौदे पर काम कर रही है. केंद्रीय मंत्री ने कहा कि 2017..18 के बजट में मंत्रालय के लिए 4195.48 करोड़ रूपये का प्रावधान किया गया है जो 2016..17 के 3827.25 करोड़ रूपये की तुलना में 9.6 प्रतिशत अधिक है.

उन्होंने कहा कि इस बार के बजट में सीखो और कमाओ, नई मंजिल, नई रौशनी, उस्ताद जैसी विभिन्न छात्रवृत्ति और कौशल विकास योजनाओं के लिए 2600 करोड़ रूपये का प्रावधान किया गया है. इसके अलावा विविध क्षेत्र विकास योजना (एमएसडीपी) के तहत आवंटित कोषों का भी उपयोग किया जायेगा.  हुनर हाट भी इस दिशा में एक महत्वपूर्ण पहल है.

नकवी ने कहा कि विकास के मसौदे को सफल बनाने के लिए देश में एकता और सौहार्द का ताना- बाना मजबूत रखना जरुरी है और हमारी सरकार इस दिशा में ठोस पहल कर रही हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles