Friday, July 30, 2021

 

 

 

तीन तलाक़ बिल पर लोकसभा में बहस जारी, कांग्रेस की मांग – ज्वाइंट सिलेक्ट कमेटी को भेजा जाए

- Advertisement -
- Advertisement -

नई दिल्ली। संसद के शीतकालीन सत्र में आज तीन तलाक बिल पर विपक्ष और सरकार के बीच तीखी बहस हो रही है। कांग्रेस सहित तमाम दल बिल को ज्वाइंट सेलेक्ट कमेटी में भेजने की मांग पर अड़े हैं जबकि सरकार का कहना है कि पहले ही विपक्ष के सुझावों को बिल में शामिल कर लिया गया है। 

लोकसभा में बहस के दौरान असम की कांग्रेस सांसद सुष्मिता देव ने कहा कि महिलाओं के अधिकार के सवाल पर नहीं, लेकिन मुंह में राम बगल में छूरी से हमें ऐतराज है।

सुष्मिता देव ने कहा कि हमारी मांग है कि इस बिल को क्लोज स्क्रूटनी के लिए जॉइंट सेलेक्ट कमेटी में भेजा जाए। सुष्मिता देव ने सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि तीन तलाक कानून के नाम पर आप मुस्लिम महिलाओं को कानूनी केस के अलावा क्या दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि शाहबानो-सायरा बानो केस से हमें सीखने की जरूरत है।

talaq

उन्होंने कहा कि अगर किसी कानून ने मुस्लिम महिलाओं को अधिकार दिया तो वह राजीव गांधी सरकार द्वारा लाए गए 1986 के कानून से मिला है। कांग्रेस सांसद ने कहा कि इस्लाम के रिवाजों में दखल देने का हक ना कोर्ट को है और ना संसद को।

वहीं बिल पर चर्चा के दौरान भाजपा नेता मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि यह इस्लाम धर्म से संबंधित मामला नहीं, यह एक सामाजिक कुरीति है। इसी तरह से सती प्रथा और बाल विवाह को भी खत्म किया गया था। इस्लामिक देशों ने दशकों पहले तीन तलाक की कुरीति को खत्म कर दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles