Friday, January 28, 2022

शिरोमणि अकाली दल की मांग – CAA में मुस्लिमों को किया जाए शामिल, लेकिन एनआरसी पर चुप्पी

- Advertisement -

पटियाला: भाजपा के सहयोगी शिरोमणि अकाली दल (शिअद) ने शनिवार को केंद्र से नए नागरिकता कानून में बदलाव कर मुस्लिमों को शामिल करने की मांग की है। साथ ही कहा कि धर्म के आधार पर किसी को बाहर नहीं किया जाना चाहिए।

बता दें कि अकाली दल केंद्र की सत्ता में आसीन बीजेपी का सहोयगी और राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) का हिस्सा है। शिअद प्रमुख सुखबीर सिंह बादल ने कहा, ‘‘हम मजबूती से मानते हैं कि मुस्लिम समुदाय को भी संशोधित नागरिकता कानून में शामिल किया जाना चाहिए।”

बादल ने कहा कि वह संसद में यह मुद्दा उठा चुके हैं और सीएए में मुसलमानों को शामिल करने की मांग कर रहे हैं। उन्होंने सिख गुरुओं का हवाला देते हुए कहा कि उन्होंने दूसरे धर्मों के लिए अपनी जान दे दी थी। हालांकि, उन्होंने नैशनल रजिस्टर ऑफ सिटिजंस (एनआरसी) पर कुछ भी बोलने से इनकार कर दिया।

बादल से जब पूछा गया कि क्या पार्टी इस मुद्दे पर सरकार से संपर्क करेगी तो उन्होंने कहा कि पहले ही वह संसद में और बाद में सरकार से अनुरोध कर चुके हैं। उन्होंने कहा, अब केंद्र पर निर्भर है। राष्ट्रीय नागरिक पंजी (एनपीआर) का समर्थन करने के बारे में पूछे जाने पर बादल ने कहा कि इस मौके पर वह अभी कुछ भी नहीं कहना चाहते हैं।

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles