यूपी चुनाव में सपा-कांग्रेस गठबंधन को मिली हार के बाद ईवीएम मशीनों की जांच की मांग उठाई है. उन्होंने कहा, मैंने भी यूपी में 25-30 पब्लिक मीटिंग की थी, लेकिन इस तरह के नतीजों के बारे में कभी सोचा तक नहीं था.

उन्होंने हार के पीछे उन्होंने कहा कि यादव परिवार के आपसी झगड़े को बताया हैं. उन्होंने कहा कि चुनाव से ठीक पहले घर में जो झगड़ा हुआ है वो भी अखिलेश के लिये हार का कारण बना. इसी के साथ उन्होंने कहा, अब ऐसे में जब जनता ने बीजेपी को मैंडेट दिया है तो वो अखिलेश के काम को आगे बढ़ा कर और अपने वादों को सच कर के दिखाये.

लालू ने कहा कि एक साजिश के तहत अमित शाह और मोदी ने सब जगह कैंपेन किया. बीजेपी के मंत्री और नेता काम छोड़ कर केवल प्रचार करते रहे. लालू ने मायावती की ईवीएम जांच का समर्थन किया और कहा कि ईवीएम की जांच होनी चाहिये क्योंकि वो मशीनें गुजरात से आती हैं, ऐसे में ईवीएम में गड़बड़ी की आशंका से इंकार नहीं किया जा सकता है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

उन्होंने कहा कि यूपी के विकास की गति को मोदी आगे कर के दिखायें और पहले कैबिनेट में ही किसानों का कर्जा माफ करें. उन्होंने कहा कि सामाजिक न्याय की धारा मजबूत नहीं रही तो आरक्षण के ऊपर तलवार लटकती रहेगी.

Loading...