प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी द्वारा दिए गए श्मसान और क़ब्रिस्तान वाले बयान की जमकर निंदा हो रही हैं, इसी बीच बिहार के डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव ने भी पीएम मोदी पर इसकों लेकर निशाना साधा हैं.

उन्होंने कहा, जो लोग श्मशान और कब्रिस्तान बातें करेंगे मतलब वह खाक होने के करीब हैं. इसके साथ ही उन्होंने  गुजरात मॉडल पर सवाल उठाए. उन्होंने कहा, जो लोग गुजरात में आजतक मेट्रो नहीं चला पाए, जिन्होंने छात्रों में कभी लैपटोप नहीं बांटा वह उत्तर प्रदेश  में श्मशान और कब्रिस्तान की बात कर रहे हैं.

उन्होंने ट्वीट कर कहा, क्या गुजरात में मेट्रो चली है? क्या 20लाख छात्रों को लैपटॉप बांटे गए है? श्मसान और क़ब्रिस्तान की बातें राख व खाक होने वालों की मंजिल है.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

याद रहें यूपी फतेहपुर की रैली में पीएम नरेंद्र मोदी ने भेदभाव का आरोप लगाते हुए कहा था कि अगर गांव में कब्रिस्तान बनता है तो शमशान भी बनना चाहिए. साथ ही उन्होंने कहा था कि रमजान में बिजली दी जाती है तो दिवाली पर भी बिजली मिलनी चाहिए. होली पर बिजली मिलती है तो ईद पर भी बिजली मिलनी चाहिए. उन्होंने कहा था कि जाति धर्म के आधार पर किसी के साथ भेदभाव नहीं होना चाहिए.

Loading...