Sunday, August 1, 2021

 

 

 

दिल्ली में हिंसा नहीं नरसंहार हुआ: ममता बनर्जी

- Advertisement -
- Advertisement -

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने बुधवार कोलकाता में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए आरोप लगाया है कि दिल्ली दंगा से ध्यान भटकाने के लिए मोदी सरकार कोरोना वायरस का डर फैला रही है। ममता बनर्जी ने कहा कि ये सच है कि कोरोनावायरस एक खतरनाक बीमारी है लेकिन इस पर दहशत कायम नहीं करना चाहिए। 

ममता बनर्जी ने कहा कि कोरोनावायरस के बारे चर्चा की जानी चाहिए, लेकिन तभी जब इसके मामले सामने आए। ममता बनर्जी ने कहा कि हम नहीं चाहते हैं कि कोरोना फैले, लेकिन उन्हें भी याद किया जाना चाहिए जो दिल्ली हिंसा में मरे हैं…कोरोना की वजह से नहीं।

दक्षिण दिनाजपुर जिले में टीएमसी की एक रैली में ममता बनर्जी ने दिल्ली हिंसा की चर्चा करते हुए कहा कि यदि ये लोग वायरस से मरे होते तो कम से कम ये कहा जाता कि ये लोग एक खतरनाक बीमारी से मरे, लेकिन यहां स्वस्थ लोगों को बेरहमी से मार दिया गया। ममता ने कहा, “ये लोग माफी भी नहीं मांगते हैं, इनके घमंड को देखिए, बल्कि ये लोग कह रहे हैं कि गोली मारो…मैं उन्हें चेतावनी देना चाहती हूं कि बंगाल और यूपी एक नहीं है।”

सीएम ने कहा, ‘बंगाल में चूहा भी काट ले तो ये लोग (BJP वाले) सीबीआई जांच की मांग करते हैं। वहीं, दिल्ली में इतने लोगों की हत्या हुई, इसको लेकर कोई न्यायिक जांच नहीं हुई। मैं सुप्रीम कोर्ट के जजों के द्वारा न्यायिक जांच की मांग करती हूं।’

उन्होंने कहा कि दिल्ली हिंसा के बाद अभी भी 700 से अधिक लोग लापता हैं। दिल्ली में स्थिति ठीक नहीं है। कई लोग बेघर हो गए। नालों से लाश निकल रहे हैं। उन्होंने दिल्ली दंगा को नरसंहार बताते हुए कार्यकर्ताओं से कहा कि इसे हिंसा नहीं, नरसंहार के रूप में प्रचारित करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles