1544100784

जयपुर। कांग्रेस की राजस्थान इकाई के अध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा है कि उन्हें पूरा भरोसा है कि चुनावों में पार्टी की जीत होगी और वह एक बार फिर साफा पहनेंगे।

पायलट से जब बुधवार को पार्टी के लिए उनके संकल्प के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा है कि 2014 में पार्टी की हार के बाद मैंने सौगंध ली थी कि जब तक कांग्रेस सत्ता में वापसी नहीं करेगी मैं साफा नहीं पहनूंगा। मैंने साफे से खुद को दूर करने का फैसला किया जो कि हमारी संस्कृति का एक प्रतीक है।

पायलट के मुताबिक, “मुझे पूरा भरोसा है कि जनता के आशीर्वाद से चुनावों में कांग्रेस की जीत सुनिश्चित होगी और मैं एक बार फिर साफा पहन पाऊंगा।’’ बता दें कि राजस्थानी साफा राजस्थान में संस्कृति और परंपराओं का एक अभिन्न हिस्सा है। खासकर चुनाव प्रचार में तो हर पार्टी का हर नेता साफा पहनता है, पर प्रचार अभियान में जब भी लोग और उनके समर्थक पायलट को स्वागत के रूप में साफा भेंट करते तो वह उसे माथे से लगाकर रख देते।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

इसी बीच कांग्रेस ने टोंक से भाजपा प्रत्याशी युनुस खान के खिलाफ आदर्श आचार संहिता के उल्लंघन की शिकायत निर्वाचन आयोग से की है। प्रदेश कांग्रेस महासचिव सुशील शर्मा ने बताया कि पार्टी ने इस बारे में देश के मुख्य निर्वाचन आयुक्त और राज्य के मुख्य निर्वाचन अधिकारी को पत्र लिखा है।

पार्टी का कहना है कि खान ने बृहस्पतिवार को एक संवाददाता सम्मेलन किया जो कि आचार संहिता का उल्लंघन है। राज्य में प्रचार अभियान बुधवार शाम को समाप्त हो गया था। टोंक से कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष सचिन पायलट भी उम्मीदवार हैं। इस बारे में खान से बात नहीं हो सकी है। इसके अलावा कांग्रेस ने पाली में चुनाव ड्यूटी में लगे एक अधिकारी द्वारा पांच ईवीएम मशीन को मतदान केंद्र के बजाय अपने घर ले जाने के मामले की भी शिकायत की है।

Loading...