p chin

भारत द्वारा POK में की गई सर्जिकल स्ट्राइक के बाद इसके राजनितिक लाभ लेने के लिए बहस शुरू हो चुकी हैं. भारतीय जनता पार्टी आगामी यूपी और पंजाब के विधानसभा चुनावों में इसके जरिये लाभ लेने की कोशिश करेगी. वहीँ कांग्रेस भी इसका जवाब देने के लिए मनमोहन सरकार के शासन में कई सर्जिकल स्ट्राइक होने का दावा कर रही हैं.

पूर्व गृहमंत्री और कांग्रेस नेता पी चिंदबरम ने एक इंटरव्यू में दावा  किया कि भारत ने 2013 में एक बहुत बड़ी सर्जिकल स्ट्राइक की थी. लेकिन रणनीतिक गतिरोधों को ध्यान में रखते हुए इसकी जानकारी सार्वजनिक नहीं करने का फैसला किया  गया था. चिदंबरम ने NDA सर्कार को  सर्जिकल स्ट्राइक को लेकर किसी भी तरह का अपरिपक्व फैसला लेने से बचने की भी सलाह दी.

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

वहीँ कांग्रेसी नेता संदीप दीक्षित ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और उनके पूर्व मंत्रियों को लिखे एक खुले पत्र में कहा कि दीक्षित ने कहा कि कांग्रेस सरकार के 10 साल के शासन में भारत ने कई सर्जिकल स्ट्राइक की लेकिन उन्होंने उनका ऐसा प्रचार नहीं किया है.

उन्होंने आगे कहा, “आपके प्रधानमंत्री काल में भी कई मौकों पर ऐसी कार्रवाई की बातें मैंने सुनी थीं. 2007, 2009, मुंबई हमले के बाद, 2011 में, जनवरी 2013 और 2014 की शुरुआत में और कई बार.

Loading...