Monday, September 27, 2021

 

 

 

#CAA के खिलाफ राजघाट पर कांग्रेस का सत्याग्रह, राहुल ने पढ़ी संविधान की प्रस्तावना

- Advertisement -
- Advertisement -

नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के नेतृत्व में पार्टी के शीर्ष नेता सोमवार को महात्मा गांधी के समाधि स्थल राजघाट पर सत्याग्रह पर बैठें। इसमें राहुल गांधी, महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा, डॉ. मनमोहन सिंह, गुलाम नबी आजाद, अहमद पटेल और मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ शामिल हुए।

इस दौरान सोनिया, राहुल और मनमोहन ने संविधान की प्रस्तावना पढ़ी। कांग्रेस के इस विरोध प्रदर्शन के दौरान राजस्‍थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ, पार्टी के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल, एके एंटनी, गुलाम नबी आजाद, केसी वेणुगोपाल, आनंद शर्मा, दिग्विजय सिंह और बड़ी संख्या में पार्टी के कार्यकर्ता भी मौजूद रहे।

प्रियंका ने कहा- आंदोलन में शहीद होने वाले बच्चों के लिए संकल्प लें

प्रियंका गांधी ने कहा, ‘बिजनौर के 22 साल के बच्चे अनस के नाम, जो अपने परिवार के लिए कॉफी की मशीन चलाकर कमाता था, जिसकी कुछ समय पहले ही शादी हुई थी, वहां के 21 साल के सुलेमान के नाम, जो यूपीएससी के लिए पढ़ाई कर रहा था, जिसकी मां ने कल शाम मुझसे कहा- मेरा बेटा वतन के लिए शहीद हुआ है। उन सभी बच्चों के नाम जो इस आंदोलन में शहीद हुए हैं। बिजनौर के ओमराज सैनी के नाम, जिसके 5 बच्चे अभी भी उनका घर पर इंतजार कर रहे हैं, वो अस्पताल में घायल हैं। उन सबके नाम आज हम संकल्प करें कि हम इस संविधान की रक्षा करेंगे, इस संविधान को नष्ट नहीं होने देंगे।’

अहमद पटेल ने कहा- लोकतंत्र खतरे में है

कांग्रेस नेता अहमद पटेल ने कहा कि आज ऐसे लोग सत्ता में हैं जो आजादी की लड़ाई में कहीं भी नहीं थे। आज राष्ट्र, लोकतंत्र और संविधान खतरे में है और युवाओं ने इसके खिलाफ आवाज उठाई है। इसके बाद उन्होंने संविधान की प्रस्तावना पढ़ी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles