arun jaitley vijay mallya 20180949013

देश के हज़ारों-करोड़ लेकर फरार हुए शराब कारोबारी विजय माल्या के भारत छोड़ने से पहले वित्त मंत्री अरुण जेटली से मुलाक़ात के बयान ने देश की राजनीति को गर्मा दिया। हालांकि जेटली ने माल्या के बयान को खारिज किया है।

इसी बीच कांग्रेस नेता पीएल पूनिया ने भी दावा किया है कि उन्होंने अरुण जेटली को विजय माल्या से मिलते हुए देखा था। दरअसल, बुधवार को जैसे ही माल्या ने इस मुलाकात का जिक्र किया। उसके कुछ ही देर बाद वित्त मंत्री अरुण जेटली ने बयान जारी करते हुए सफाई दी कि वह माल्या से मिले थे, लेकिन वह मुलाकात आधिकारिक नहीं थी।

पुनिया ने कहा, ‘मैंने दोनों अरुण जेटली और विजय माल्या को संसद के केंद्रीय हॉल में विचार-विर्मश करते हुए देखा था। इसकी पुष्टि उस दिन की सीसीटीवी फुटैज से की जा सकती है।’

पुनिया ने ट्वीट भी किया, “अरुण जेटली झूठ बोल रहे हैं, मैंने सेंट्रल हॉल में उन्हें माल्या के साथ लंबी बैठक करते हुए देखा था। ये बैठक माल्या के लंदन के लिए जाने से दो दिन पहले हुई थी।”

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने ट्वीट कर मोदी सरकार को आड़े हाथ लिया है। ट्वीट में वह लिखते हैं, ‘भगोड़ों का साथ, लुटेरों का विकास’ भाजपा का एकमात्र लक्ष्य है। सुरजेवाला ने कहा, ‘मोदी जी, आपने ललित मोदी, नीरव मोदी ‘हमारे मेहुल भाई’, अमित भटनागर जैसों को देश के करोड़ों रुपये लुटवा, विदेश भगा दिया। विजय माल्या, तो श्री अरुण जेटली से मिलकर, विदाई लेकर, देश का पैसा लेकर भाग गया है? चौकीदार नहीं, भागीदार है!’

Loading...

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें