kasmi

दिल्ली में चल रही बीजेपी राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक पर सवाल खड़े करते हुए कांग्रेस नेता मुहम्मद उमर कासमी ने कहा कि बीजेपी को जनता के हितों से कोई सरोकार नहीं है। उन्होने कहा कि देश की जनता महंगाई, पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी से त्रस्त हैं लेकिन बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को इनसे कुछ लेना-देना ही नहीं है।

कासमी ने आरोप लगाया कि दो दिन की इस बैठक में अमित शाह और बीजेपी नेताओं ने जनता से जुड़े किसी भी मुद्दे पर चर्चा नहीं की। उन्होने कहा कि ‘पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी, महंगाई, अर्थव्यवस्था की खराब हालत और ‘राफेल घोटाले जैसे असली मुद्दों पर भाजपा की चुप्पी ने साबित कर दिया कि उसे जनता की पीड़ा से कोई फर्क नहीं पड़ता।’

उन्होने बताया कि बढ़ती महंगाई के खिलाफ कांग्रेस 10 सितंबर यानि कल भारत बंद करने जा रही है। उन्होंने कहा कि सोमवार को भारत बंद के लिए पार्टी पूरी तरह से तैयार है। ये बंद बीजेपी की गलत आर्थिक नीति के खिलाफ होगा। उन्होने सवाल उठाया कि अंतर्राष्ट्रीय मार्केट में पेट्रोल डीजल के दाम लगातार कम हो रहे हैं, उसके बावजूद ये सरकार दाम क्यों कम नहीं कर रही है।

मुस्लिम परिवार में शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

kasmi11

कांग्रेस नेता ने कहा, चार साल में पेट्रोल पर 211.7% और  डीजल पर 443% एक्साइज ड्यूटी बढ़ी है। मई 2014 में पेट्रोल पर 9.2 रुपये एक्साइज लगता था और अब 19.48 रुपये लगता है। वहीं मई 2014 में डीजल पर 3.46 रुपये एक्साइज था, जबकि अब 15.33 रुपये लगता है।

उन्होने सरकार से मांग है कि पेट्रोल-डीजल को जीएसटी में लाए। ऐसा हुआ तो कीमतें 15-18 रुपये तक कम होंगी। इससे बाकी चीजों की मंहगाई भी कम होगी। सरकार ने पिछले चार साल में एक्साइज ड्यूटी से 11 लाख करोड़ रुपए कमाए हैं। कासमी ने देश की जनता से भारत बंद को सफल बनाने में सहयोग देने की अपील की।

Loading...