Tuesday, July 27, 2021

 

 

 

कांग्रेस सॉफ्ट हिंदुत्ववादी तो आरएसएस हार्ड हिंदुत्ववादी: प्रकाश अंबेडकर

- Advertisement -
- Advertisement -

आरएसएस की आतंकी संगठन से तुलना कर चुके बाबा साहब भीम राव आंबेडकर के पोते और भारिप बहुजन महासंघ के अध्यक्ष प्रकाश आंबेडकर ने अब कांग्रेस को सॉफ्ट हिंदुत्ववादी और आरएसएस को हार्ड हिंदुत्ववादी करार दिया। अंबेडकर ने कहा, ‘ तीन राज्यो में सरकार बनाने के बाद कांग्रेस का दिमाग फिर गया है। कांग्रेस यह नहीं स्वीकारती हैं कि महाराष्ट्र में कांग्रेस ने ग्राउंड खो दिया है। कांग्रेस हर किसी को दबोचना चाहती है बराबरी का रिश्ता नहीं चाहती।’

इतना ही नहीं अंबेडकर ने कांग्रेस की तुलना आरएसएस से करते हुए कहा, ‘ कांग्रेस आरएसएस की तरह हिंदुत्व की बात करने वाली पार्टी है। आरएसएस और कांग्रेस में कोई अंतर नहीं है। कांग्रेस सॉफ्ट हिंदुत्ववादी है तो आरएसएस हार्ड हिंदुत्ववादी है। कांग्रेस हिंदुत्ववादी पार्टी है ऐसे में सेक्युलर स्पिरिट की बात न करे। हमारा गठबंधन हिन्दू मुस्लिम समाज के (लेफ्ट आउट क्लास) हित में है।

अंबेडकर एनसीपी को लेकर कहा कि एनसीपी अपने गिरेबां में पहले झांके। महाराष्ट्र में बीजेपी की अगर सरकार बनी है तो उसके पीछे एनसीपी ही है। एनसीपी के आधे कार्यकर्ता संभाजी भिड़े और विहिप के साथ हैं। वहीं ओवैसी पर प्रकाश का कहना है कि कांग्रेस को इस बात का डर है कहीं देश में मुस्लिम लीडरशिप न पैदा हो जाये। मुसलमानो की राजनीति धार्मिक लीडरशिप के मुताबिक चली है। मुसलमानों की सोशियो पोलिटिकल लीडरशिप खड़ी हो रही है। जिस से हर पार्टी खफा है।

उन्होने आगे कहा, ‘आरएसएस और बीजेपी मुसलमानो को बैन करना चाह रही हैं। एनसीपी कांग्रेस मुसलमानो का इस्तेमाल कर रही है। एमआईएम से मुसलमानो को ताकत मिल रही है। मुसलमानों में डर था उससे मुक्ति पायी है।’

इस बयान के सामने आने के बाद कांग्रेस और एनसीपी नेता अंबेडकर को मनाने उनके आवास पर पहुंचे। जिसमे कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अशोक चव्हाण, मानिकराव ठाकरे और एनसीपी से छगन भुजबल प्रकाश शामिल हैं। गौरतलब है कि प्रकाश आंबेडकर ने 30 तारीख का अल्टीमेटम दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles