Sunday, December 5, 2021

हिन्दू संत-महंतों के लिए कांग्रेस ने किया सेल का गठन, पार्टी में ही उठने लगी विरोध की आवाज

- Advertisement -

मुंबई | कांग्रेस ने बेहद ही अप्रत्याशित कदम उठाते हुए एक धार्मिक सेल का गठन किया है. हिन्दू संत-महंतों के लिए गठित किये गए इस सेल का संयोजक ध्यानयोगी ओमदास जी को बनाया गया है. इस मौके पर मीडिया से बात करते हुए ओमदास जी ने गौमांस सेवन पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा की इससे लोग डिप्रेशन का शिकार हो जाते है इसलिए शाकाहार का सेवन ज्यादा लाभप्रद है.

मुंबई कांग्रेस के वरिष्ठ नेता संजय निरुपम ने 2 जुलाई को इस सेल का गठन किया. संजय ने इस सेल को मुंबई संत-महंत कांग्रेस का नाम दिया. इस दौरान उन्होंने सेल के गठन का औचित्य बताते हुए कहा की देश के कई राज्यों में हिन्दू मंदिरों और मठ के पुजारियों को कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है. हम उनकी परेशानियों का पता लगा उनका हल खोजने की कोशिश करेंगे.

हालाँकि संजय निरुपम के इस कदम से उनकी ही पार्टी में विरोध शुरू हो गया है. महाराष्ट्र के पूर्व अल्पसंख्यक मंत्री आरिफ नसीम खान का कहना है की इस प्रकार के किसी सेल का गठन, पार्टी संविधान के खिलाफ है. इसके अलावा ऐसी किसी सेल का गठन करने से पहले हाई कमांड की भी इजाजत नही ली गयी. उधर ओमदास जी ने संत-महंत कांग्रेस सेल के गठन पर ख़ुशी जताते हुए कहा की यह एक सही कदम है.

इंडियन एक्सप्रेस से बात करते हुए ओमदास जी ने कहा की इस सेल की आलोचना करना गलत है. केवल वो ही लोग इसकी आलोचना कर रहे है जो यह नही जानते की आखिर सेल क्या काम करने जा रहा है. गौरक्षा के नाम पर हो रही हत्याओ पर प्रतिक्रिया देते हुए ओमदास जी ने कहा की कोई भी साधू संत इस तरह की गुंडागर्दी और हिंसा का समर्थन नही करता. हालाँकि गौमांस सेवन की उन्होंने आलोचना की. उन्होंने कहा की इससे मनुष्य की सोचने समझने की शक्ति खत्म हो जाती है.

- Advertisement -

[wptelegram-join-channel]

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles