Tuesday, June 22, 2021

 

 

 

राजस्थान निकाय चुनाव में कांग्रेस ने दी भाजपा को मात, 30 शहरों में गंवाई सत्ता

- Advertisement -
- Advertisement -

राजस्थान में 11 दिसंबर को हुए 12 जिलों की 50 नगर निकायों में हुए चुनावों में कांग्रेस ने बीजेपी को करारी मात देते हुए बड़ी जीत हासिल की है। जबकि निर्दलीय किंगमेकर की भूमिका में हैं।

50 नगर निकाय में 43 नगर पालिका और 7 नगर परिषद के 1775 वार्डों के आए नतीजों के अनुसार कांग्रेस को 620 वार्डों में जीत मिली है, जबकि निर्दलीयों के खाते में 595 वार्ड आए हैं। बीजेपी को 548 वार्डों में जीत मिली हैं। इसके अलावा बसपा के 7, सीपीआई के 2, सीपीआई (एम) के 2 और आरएलपी के 1 सीट मिली है।

शहरी स्थानीय निकाय चुनाव में कांग्रेस के अच्छे प्रदर्शन के बाद राजस्थान कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि नतीजों से पता चलता है कि शहरी मतदाताओं में भाजपा से ‘दूरी’ बढ़ रही है। पार्टी निर्दलीय उम्मीदवारों से भी पीछे रही।

उन्होंने कहा कि 50 ULB (43 नगर पालिका और 7 नगर परिषद) में कांग्रेस ने 17 में बहुमत से जीत हासिल की है। जहां तक निर्दलीयों का सवाल है उनमें अधिक कांग्रेस समर्थित हैं। उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस 50 ULB में से 30 अधिक में बोर्ड बनाने में सफल होगी।

चुनाव में निर्दलीयों के अधिक सीटें जीतने पर उन्होंने कहा कि कांग्रेस के सत्तारुढ़ पार्टी होने के नाते हर दूसरा उम्मीदवार पार्टी से टिकट मिलने की उम्मीद करता है। टिकट ना मिलने की स्थिति में उन्होंने निर्दलीय चुनाव लड़ा।

बता दें कि 2015 के 50 निकाय चुनाव में में से 34 शहरों में बीजेपी अपना कब्जा जमाने में सफल रही थी, लेकिन 5 साल बाद सिर्फ चार स्थानों पर अपना पूर्ण बहुमत जुटा पाई है।

प्रदेश के 12 जिलों अलवर, बारां, करौली, दौसा, भरतपुर, जयपुर, धौलपुर, श्रीगंगानगर, जोधपुर, कोटा, सवाईमाधोपुर, सिरोही की 43 नगर पालिका और 7 नगर परिषदों के 1775 वार्डों के लिए 11 दिसंबर को मतदान हुआ था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles