नई दिल्ली: कांग्रेस ने सऊदी अरब के युवराज मोहम्मद बिन सलमान का प्रोटोकॉल से इतर जाकर स्वागत करने को लेकर PM मोदी पर निशाना साधा. कांग्रेस ने सवाल किया कि क्या पाकिस्तान के तथाकथित आतंकवाद विरोधी प्रयासों की तारीफ करने वाले शख्स को गले लगाकर पुलवामा के शहीदों को याद करने का मोदी का यही तरीका है?

कांग्रेस के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने बिन सलमान और मोदी के गले मिलने वाली तस्वीरें और पाक-सऊदी साझा बयान के लिखित ब्यौरे को शेयर करते हुए ट्वीट किया, ‘राष्ट्रीय हित बनाम मोदी जी की गले लगने वाली कूटनीति…. । प्रोटोकॉल तोड़कर उस व्यक्ति का भव्य स्वागत किया जिसने पाकिस्तान को 20 अरब डॉलर देने का वादा किया और पाकिस्तान के ‘आतंकवाद विरोधी’ प्रयासों की सराहना की।’

Loading...

उन्होंने प्रधानमंत्री से सवाल किया, ‘क्या पुलवामा के शहीदों को याद करने का आपका यही तरीका है?’ सुरजेवाला ने कहा, ‘मोदी जी, क्या आप सऊदी अरब से कहेंगे कि वह पाकिस्तान के साथ जारी उस साझा बयान से पीछे हटे जिसमें मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने की भारत की मांग को लगभग खारिज किया गया है।’

आपको बता दें कि सऊदी अरब के क्राउन प्रिंस मोहम्मद बिन सलमान मंगलवार देर रात को दो दिवसीय भारत यात्रा पर पहुंचे हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पालम एयरपोर्ट पहुंच क्राउन प्रिंस का स्वागत किया और वहां उन्हें गले लगाया। इसके अलावा बुधवार सुबह जब मोहम्मद बिन सलमान राष्ट्रपति भवन पहुंचे तो वहां पर भी नरेंद्र मोदी उन्हें गले लगाते दिखे।

सऊदी अरब के युवराज भारत की पहली द्विपक्षीय यात्रा पर आए हैं । इससे पहले बिन सलमान पाकिस्तान की यात्रा पर गए थे, जहां दोनों देशों के बीच 20 अरब डॉलर के समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए थे।

शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें