Tuesday, October 19, 2021

 

 

 

मूडीज की रेटिंग पर कांग्रेस का तंज कहा, देश का मूड भापने में नाकाम रहे है मोदी और मूडीज

- Advertisement -
- Advertisement -

moody

नई दिल्ली । अंतरराष्ट्रीय रेटिंग एजेन्सी मूडीज द्वारा भारत की क्रेडिट रेटिंग सुधारने को लेकर कांग्रेस ने प्रधानमंत्री मोदी और वित्त मंत्री अरुण जेटली पर कड़ा प्रहार किया। कांग्रेस ने मूडीज की रेटिंग को ज़मीनी हक़ीक़त से दूर बताते हुए कहा कि किसी भी चुनाव से पहले इसी तरह किसी विदेशी एजेन्सी की क्रेडिट रेटिंग जारी हो जाती है। कांग्रेस ने मूडीज की रेटिंग पर उत्साहित हो रहे अरुण जेटली को भी आड़े हाथो लिया।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और प्रवक्ता राजीव शुक्ला ने मूडीज की रेटिंग पर सवालिया निशान लगाते हुए कहा कि अगर देश की अर्थव्यवस्था इतनी ही अच्छी है तो फिर जीडीपी और आर्थिक विकास डर में लगातार गिरावट क्यों आ रही है। हक़ीक़त यह है की आर्थिक मोर्चे पर देश की ज़मीनी हक़ीक़त काफ़ी ख़राब है। आख़िर क्यों चुनाव से पहले एक विदेशी एजेन्सी की क्रेडिट रेटिंग जारी हो जाती है।

शुक्ला ने आगे कहा कि अब तक किसी भी भारतीय एजेन्सी ने कोई रेटिंग जारी नही की है जिसको देश की आर्थिक स्थिति की वास्तविकता का पता है। रेटिंग बढ़ने के बाद मोदी सरकार की तरफ़ से इसे एक उपलब्धि के तौर पर प्रदर्शित किया जा रहा है। यही नही मूडीज के ज़रिए वित्त मंत्री और प्रधानमंत्री विपक्ष पर भी निशाना साध रहे है। शुक्ला ने इस पर भी तंज कसते हुए कहा की क्या मोदी जी वशिंगटन से चुनाव लड़ना चाहते है?

राज़ीव शुक्ला के अलावा कांग्रेस नेता रणदीप सूरजेवाला ने भी मूडीज रेटिंग पर सवाल खड़े किए। उन्होंने कहा कि भारत की अर्थव्यवस्था को नष्ट करने के बाद मोदी सरकार अपनी खोई साख को छुपाने के लिए इस तरह के हथकंडे अपना रही है। वो इन रिपोर्ट को तिनके की तरह बटोर रही है। हक़ीक़त यह है की मोदी और मूडीज की जोड़ी देश का मूड भापने में पूरी तरह विफल रही है। यह वही मूडीज है जो अमेरिका में आयी मंदी का सही आंकलन नही कर पायी थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Hot Topics

Related Articles