rahul asaduddin owaisi

rahul asaduddin owaisi

आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में कांग्रेस ने अपनी सहयोगी पार्टी आल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) से अपना बरसों पुराना नाता तोड़ दिया है. आप को बता दें कि AIMIM मशहूर मुस्लिम नेता असदुद्दीन ओवैसी के नेतृत्व वाली राजनीतिक पार्टी है.

कांग्रेस ने दोनों ही राज्यों में AIMIM की सभी लोकसभा और विधानसभा सीटों पर अपना प्रत्याशी उतारने का फैसला किया है. तेलंगाना प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष एन. उत्तम कुमार रेड्डी के अनुसार, पार्टी के शीर्ष नेतृत्व ने ओल्ड सिटी सहित अन्य सभी जगहों पर एआईएमआईएम के खिलाफ प्रत्याशी उतारने का फैसला किया है.

पार्टी के अनुसार, ये फैसला ओवैसी की और से सभी राज्यों में कांग्रेस के खिलाफ उम्मीदवार उतारे जाने से आहत होने के चलते लिया गया है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने केवल प्रत्याशी उतारने का ही नहीं, बल्कि यह आश्वस्त करने को भी कहा है कि एमआईएम प्रत्याशी की बुरी तरह हार हो.

आप को बता दें कि दोनों ही पार्टियों के रिश्ते उस वक्त से खराब होना शुरू हुए जब आंध्र प्रदेश के बंटवारे से पहले किरन कुमार रेड्डी की अगुवाई वाली कांग्रेस सरकार ने चारमीनार के निकट एक मंदिर के निर्माण के विषय  में एआईएमआईएम विधायक अकबरूद्दीन ओवैसी को जेल भेजने के साथ ही कथित तौर पर प्रताड़ित किया था.

जिसके बाद मजलिस ने कांग्रेस सरकार पर मुस्लिम-विरोधी नीतियां अपनाने का आरोप लगाया और उस से अपना समर्थन वापस ले लिया.

मुस्लिम परिवार शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

Loading...

विदेशों में धूम मचा रहा यह एंड्राइड गेम क्या आपने इनस्टॉल किया ?