647994 flags

उत्तर-पूर्व राज्य मिजोरम में स्थानीय निकाय में सत्ता के लिए BJP और कांग्रेस ने गठबंधन कर सबको हैरान कर दिया है.

आदिवासी बहुल चकमा स्वायत जिला परिषद (सीएडीसी) के लिए हुए स्थानीय चुनावों में दोनों ही पार्टियों को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला. जिसके बाद दोनों धुर-विरोधी दलों ने जिला परिषद में अपनी सरकार बनाने के लिए गठबंधन कर लिया.

20 सदस्यीय सीएडीसी के चुनाव में कांग्रेस ने छह और बीजेपी ने पांच सीटों पर जीत हासिल की थी. वहीं मिजो नेशनल फ्रंट (एमएनएफ) ने सबसे अधिक आठ सीटों पर कब्जा जमाया था. ऐसे में सत्ता के लिए जरूरी 11 सीट हासिल करने में सभी पार्टी दूर रहीं. जिसके बाद भाजपा और कांग्रेस ने हाथ मिलाकर बहुमत हासिल कर लिया.

amit shah

परिषद की नई सरकार के लिए बीजेपी-कांग्रेस के नेताओं के बीच हुई डील के मुताबिक परिषद के अध्यक्ष का पद बीजेपी को दिया गया है. बीजेपी के शांति जीवन चकमा काउंसिल के सीईओ होंगे. मिजोरम में हुई इस राजनीतिक उठापटक से बीजेपी खेमे में बेचैनी है. पार्टी सूत्रों के मुताबिक बीजेपी इस मामले में कार्रवाई कर सकती है.

वहीँ मिजोरम के खेल मंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ने कहा कि दोनों दलों (भाजपा-कांग्रेस) के स्थानीय नेताओं ने समझौता किया है और चुनाव बाद यह गठबंधन बना. उन्होंने आगे कहा कि इस गठबंधन से राज्य के विधानसभा चुनावों से कोई संबंध नहीं है. इससे कोई फर्क नहीं पड़ेगा. बता दें कि राज्य में कांग्रेस की सरकार है.


शादीे करने के इच्छुक है तो अभी फोटो देखकर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें 

Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें