छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भोपाल से भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर को आदतन अपराधी बताते हुए कहा कि ‘प्रज्ञा ठाकुर का का व्यवहार आदतन अपराधी जैसा रहा है। उन्होंने 19 साल पहले यहां चाकूबाजी की थी, मारपीट की थी वह छोटी-छोटी बातों पर झगड़ा करती हैं।

उन्होंने बताया कि प्रज्ञा ठाकुर ने छत्तीसगढ़ के बिलाईगढ़ में शैलेंद्र देवांगन नाम के एक शख्स के सीने पर चाकू घोंपा था। वह शुरू से ही झगड़ालू प्रवृति की रही हैं।’ सीएम भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ी में संबोधन के दौरान कहा कि साधू कैसे चाकू चला सकती है। ऐसे लोग साधु नहीं हो सकते हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह के खिलाफ बीजेपी को कोई और उम्मीदवार नहीं मिला।

बीजेपी की ओर से साध्वी प्रज्ञा को भोपाल से उम्मीदवार बयान जाने पर भूपेश बघेल ने कहा, ‘हां! तो बीजेपी की वॉशिंग मशीन से घुलकर आतंक का एक आरोपी देशभक्त बनकर निकली है। ये वही देशभक्त है, जिसने 2001 में छत्तीसगढ़ के बिलाईगढ़ में शैलेंद्र देवांगन नामक व्यक्ति पर चाकू से हमला किया था। इनकी चले तो ये तो अपने गुरु गोडसे को भी फिर से जिंदा कर चुनाव लड़वा दें।’

बघेल ने प्रज्ञा ठाकुर द्वारा मुंबई हमले में शहीद हेमंत करकरे पर की गई टिप्पणी को लेकर कहा कि करकरे को भारत सरकार ने मरणोपरांत अशोक चक्र से सम्मानित किया है। उन्हें पूरा देश सलाम करता है।  सभा के बाद मुख्यमंत्री ने संवाददाताओं से कहा कि बिलाईगढ़ के लोग उन्हें बेहतर जानते हैं। क्योंकि उनके जीजा जी भदौरिया वेयर हाउस में काम करते थे। ठाकुर उनके यहां रहती थी। लोगों ने बताया कि उसने यहां शैलेंद्र देवांगन के सीने में चाकू मारा था।

मुख्यमंत्री ने कहा कि शहीद हेमंत करकरे के बारे में जिस प्रकार से ठाकुर ने बातें कही है उसे लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह को देश से माफी मांगनी चाहिए। प्रज्ञा ठाकुर ने जो बयान दिया है उसकी सब लोगों ने निंदा की है और हम भी उसकी निंदा करते हैं।

Loading...
लड़के/लड़कियों के फोटो देखकर पसंद करें फिर अपना जीवन साथी चुने (फ्री)- क्लिक करें

 

विज्ञापन