गैर-भाजपाई सरकार के लिए चंद्रबाबू नायडू ने 24 घंटे में राहुल-पवार से दूसरी बार मुलाक़ात

4:42 pm Published by:-Hindi News

नई दिल्ली. लोकसभा चुनाव के नतीजों से पहले ही आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री और तेदेपा प्रमुख एन चंद्रबाबू नायडू ने भाजपा विरोधी मोर्चा बनाने की कवायद तेज कर दी। उन्होंने रविवार को लगातार दूसरे दिन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और राकांपा प्रमुख शरद पवार से मुलाकात की।

नायडू शनिवार को दिल्ली में राहुल और पवार के अलावा अरविंद केजरीवाल, भाकपा नेताओं सुधाकर रेड्डी और डी राजा से मिले थे। इसके बाद शाम को लखनऊ पहुंचकर उन्होंने मायावती और अखिलेश यादव से भी मुलाकात की थी। अब लखनऊ से वापस आकर तेदेपा प्रमुख ने दूसरी बार राहुल गांधी से दिल्ली में मुलाकात की है।

यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी शनिवार को कांग्रेस नेतृत्व के साथ सरकार गठन की संभावनाओं को लेकर पार्टी की रणनीति तैयार करने के लिए सक्रिय हुईं। सूत्रों ने बताया कि सोनिया गांधी, पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के नेतृत्व में कांग्रेस नेताओं ने अहमद पटेल, ए के एंटनी और अन्य के साथ विचार विमर्श किया।

राजनीतिक सूत्रों की मानें तो शनिवार को चंद्रबाबू ने राहुल गांधी से कहा है कि हमें चुनाव नतीजों के लिए रणनीतिक तौर पर तैयार रहना चाहिए। अगर भाजपा बहुमत से चूकती हैं, तो हमें सरकार बनाने के लिए मजबूत दावा पेश करने की तैयारी पहले ही कर लेनी चाहिए।

कांग्रेस का मानना है कि भाजपा को इस बार बहुमत नहीं मिलेगा। इसी के मद्देनजर यूपीए प्रमुख ने सेक्युलर पार्टियों के नेताओं को निमंत्रण भेजा है। इनमें शरद पवार, द्रमुक प्रमुख एमके स्टालिन, राजद और टीएमसी के नेता शामिल हैं। इसके लिए कांग्रेस ने चार नेताओं की टीम बनाई है, जिसमें अहमद पटेल, पी.चिदंबरम, गुलाम नबी आजाद और अशोक गहलोत हैं।

Loading...