उत्तर प्रदेश के कासगंज में 26 जनवरी को तिरंगा यात्रा के नाम पर हुई हिंसा में मारे गए युवक चंदन गुप्ता को लेकर समाजवादी पार्टी के नेता अबू आजमी ने बड़ा दावा करते हुए कहा कि चंदन को मुस्लिमों ने नहीं बल्कि हिंदुओं ने मारा है.

हिंदी समाचार चैनल न्यूज़ 18 पर कासगंज हिंसा पर हुए एक डिबेट शो में आजमी ने कहा कि ‘तिरंगा यात्रा में लड़के भगवा झंडा लेकर और सिर पर भगवा कपड़े बांध मुस्लिम इलाके में आए और कहने लगे कि हिंदुस्तान में रहना होगा तो वंदेमातरम कहना होगा. जिन लोगों ने हाथ में भगवा जंडा और सिर पर भगवा बांधा होगा उन्हीं लोगों ने ये काम किया होगा.’

उन्होंने मुस्लिम इलाकों से तिरंगा यात्रा निकाले जाने और पाकिस्तानी विरोधी नारे लगाने पर सवाल उठाते हुए कहा कि आखिर क्या जरूरत थी मुस्लिम इलाके से तिरंगा यात्रा निकालने की? क्या यहां के मुसलमान पाकिस्तानी हैं क्या?’

सपा नेता ने कहा कि ‘मुसलमान उस दिन तिरंगा फहराने की तैयारी कर रहे थे, न की झगड़ा करने की. ऐसे में भगवा झंडा लेकर आने की क्या जरुरत थी. साथ ही उन्होंने कहा कि रैली में मौजूद लोगों के हाथों में हथियार थे.

कोहराम न्यूज़ को सुचारू रूप से चलाने के लिए मदद की ज़रूरत है, डोनेशन देकर मदद करें




Loading...

कोहराम न्यूज़ की एंड्राइड ऐप इनस्टॉल करें